400+Best Gulzar Shayari in Hindi Image

यदि आप “गुलजार साहब की मशहूर शायरी और Gulzar Shayari in Hindi QUOTES, STATUS, POETRY & THOUGHTS” के दीवाने है तो यहाँ आपको इनके एक से बढ़कर एक “Gulzar ki shayari hindi me” पढ़ने मौका मिलाने वाले है| साथ ही आप गुलजार साहब के जीवन से भी परिचित होंगे, तो कृपया इस आर्टिकल के साथ बने रहें.

 

Best Gulzar Shayari in Hindi And Quotes Collection

गुलजार साहब का पूरा नाम सम्पूर्ण सिंह कालरा है| और यही कालरा नाम के लड़के ने फ़िल्मी दुनियां के मशहूर सितारे बन गए| इनका जन्म झेलम जिला के देना नाम के गाँव में 18 अगस्त 1934 में हुआ| अपने स्कूली शिक्षा के दौरान ही उन्हें साहित्य पढ़ने में काफ़ी रूचि थी| उन्होंने रविंद्रनाथ टैगोर की बहुत सारी किताबो को पढ़ा और धीरे धीरे उन्हें बंगाली भाषा से लगाव बढ़ता गया| और यही से उन्हें पढ़ने की लत लग गई और इसके बाद उन्होंने हर साहित्यकार, लेखक, कवी की सारी रचनाये पढ़ डाली|

gulzar shayari in hindi, gulzar shayari on love, gulzar shayari on zindagi, gulzar shayari in hindi 2 line, gulzar shayari on dosti, gulzar shayari on eyes, romantic gulzar shayari, gulzar Quotesin hindi, gulzar poetry in hindi, gulzar shayari

उन्होंने ने गैरेग के काम भी किया जहाँ उन्हें एक्सीडेंटल गाडियों को पेंट करने का काम मिला हुआ था| लेकिन  सन 1963 में बिमल रॉय के द्वारा उन्हें फ़िल्मी दुनिया में आने का मौक़ा मिला| और गुलजार साहब को बंधिनी नाम की फिल्म के लिए कम करने लगे और गैरेग की नौकरी छोड़ दी| सन 1968 में ऋषिकेश मुखर्जी के द्वारा उन्हें आशीर्वाद फ़िल्म के गीत के साथ डायलोक लिखने का भी मौका मिला|

अगर हम गुलजार साहब के गानों को देखते है तो उनमे हमें किरदार साफ़ झलकता हुआ दिखता है| जैसे- एक अकेला इस शहर में, तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी, तुम आ गए हो नूर आ गया है, रोज़ रोज़ आँखों तले इत्यादि गीतों की रचना की| साथ ही उन्हें बच्चो से बहुत लगाव है| इसलिए उन्होंने दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाले कार्टून “the jungal book” का गाना जंगल जंगल पता चला है भी लिखा|

 

 

Gulzar shayari on life in hindi collection

मै यादो का किस्सा खोलूं तो
कुछ दोस्त बहुत याद आते है
मै सिगरेट तो नहीं पिता, लेकिन
हर आने जाने वालो से पूछ लेता हूँ माचिस है क्या
बहुत कुछ है जिसे मै फूक देना चाहता हूँ, मगर
हिम्मत नहीं होती
शाम से आंख में कुछ नमी सी है
आज फिर आपकी कमी सी है
एब भी है मुझमे और खूबिय भी
ढूढने वाले तू सोच तुझे चाहिए क्या मुझमे
एक आम सा लड़का हूँ कोई ख़ास थोड़े हूँ
ऐसे ही थोड़ा बहुत लिखता हूँ कुमार बिस्वास थोड़े हूँ
और तुम साथ चलो मेरे तो बताएं बात क्या है
तुम दूर से महसूस करो कोई अहसास थोड़े हूँ
“वो इतमीनान की बाते हैं, जो सुकुन दे जाती हैं
सुकुन अगर दौलत से मिलता तो बात ही क्या थी”
अगर सब कुछ मिल जाए जिंदगी में तो तमन्ना किसकी करेंगे…।
कुछ अधूरी ख्वाइशें ही तो जिंदगी में जीने का मजा देती है….!!
बचपन में भरी दुपहरी में भी नाप आते थे पूरा मोहल्ला
जब से डिग्रियां समझ में आई पांव जलने लगे हैं
“Gulzar shayari on zindagi image”
हम उस दौर में जी रहे हैं
जहाँ मासूमियत को बेवकूफी कहा जाता हैं…

 

तूफान में ताश का घर नहीं बनता,
रोने से बिगड़ा मुकद्दर नहीं संवरता….!
दुनिया को जीतने का हौसला रखो,
एक हार से कोई फकीर नहीं बनता
और एक जीत से कोई सिकंदर नहीं बनता….!!
“Latest Gulzar Poetry in Hindi”

 

थक कर ना बैठ ऐ मंज़िल के मुसाफिर!
मंज़िल भी मिलेगी और मिलने का मजा भी आयेगा !!

 

मीठी मुस्कान , तीखा गुस्सा और नमकीन आँसू …
बस इन तीनों के स्वाद से बनी है, रेसिपी ज़िन्दगी की!

 

कोई अनजान नहीं होता,
अपनी बेरूखी और खताओं से।
बस… हौसला नहीं होता,
खुद की नजरों में खुद को
कटघरे में लाने का!

 

लश्कर भी तुम्हारा है, सरदार तुम्हारा है!
तुम झूठ को सच लिख दो, अख़बार तुम्हारा है!!
इस दौर में फरियादी, जाएं तो जाएं कहां,
सरकार भी तुम्हारी है, दरबार तुम्हारा है!!

 

घमंड ना करो , अपने रूप और रुपए का ,
मोर को उसके पंखों का बोझ ही , ऊंचा उड़ने नहीं देता

 

इस पथ पर सारे अपने हैं
जिस छांव के नीचे हम तुम हैं..
कभी वहां पर कुछ भी ना था
एक बीज वृक्ष जो बन बैठा
कितनों का गिरा पसीना था
“Gulzar Poetry in Hindi all collection”

 

तुम दिल मे रहो इतना ही बहुत है

मुलाकात की हमे इतनी भी जरूरत नही

 

 

ना तेरे आने की खुशी रहा और ना तेरे जाने का गम रहा
मोहब्बत आज भी है तुमसे बस इतना सा सितम रहा

 

मिलावट का दौर है साहब,
हाँ मे हाँ मिला दिया करो संबंध लंबे समय तक टिकेंगे

 

जब उसने किसी और को अपना लिया.
हमने भी उसके इश्क़ को अपने दिल में दफ़ना लिया.

 

गुजरा है हर लम्हा तेरी ही हसरत में,
अपने हिस्से का तो मैं अभी जिया ही नही

 

अपने सारे लोग वेगाने लगते है
हद से ज्यादा जब लोग कमाने लगते है

 

Gulzar shayari on dosti quotes in hindi

ख़ामोशियो में धीमी सी आवाज़ है
तान्हइयो में भी एक गहरा राज़ है

मिलते नहीं है सबको अच्छे दोस्त
यहाँ आप जो मिले हो हमें ख़ुद पर नाज़ है
सच्ची मेरी दोस्ती आजमा के देख लो
करके याकि मुह पर मेरे पास आ कर देख लो
“Gulzar shayari on friendship day”

बदलता नहीं कभी सोना अपना रंग
जीतनी बार चाहे आग लगा कर देख लो
तेरी मजबुरिया भी होंगी चलो मान लेते है
मगर तेरा वादा भी था मुझे याद रखने का
लिखकर लाया था, कोरे कागज़ पर परेशानियाँ
लेकिन दोस्तो ने उसे पतंग बनाकर उड़ाना सिखा दिया
“new Gulzar shayari on dosti”
अगर फुर्सत में ही याद करना हो तो मत करना दोस्त
हम अकेले ज़रूर है लेकिन फ़िजूल नहीं|
मिले तो हजारो लोग थे ज़िन्दगी में मगर
वो सबसे अलग था, जो किस्मत में ना था
ज़िन्दगी भी थोड़ी ऐब हो गई है
अब ख़ुश दिखना, ख़ुश रहने से ज्यादा ज़रूरी हो गया है
मै तो खुद से भी अजनबी हूँ
मुझे गैर कहने वाले तेरी बात में दम है|
मैंने इतनी बार समझाया है की सब तक़दीर का खेल है
लेकिन ख्वाहिशे है की मानती नहीं|
जो भी चाहा वो मिला नहीं
तो जो मिला क्यों न उसे ही चाहा जाए
ज़रूरी हो गया है अब मुस्कुराते रहना
क्योकी दर्द में देख कर लोग सवाल काफ़ी करते है|

 

Best Gulzar Shayari on love In Hindi

gulzar shayari in hindi, gulzar shayari on love, gulzar shayari on zindagi, gulzar shayari in hindi 2 line, gulzar shayari on dosti, gulzar shayari on eyes, romantic gulzar shayari, gulzar Quotesin hindi, gulzar poetry in hindi, gulzar shayari

प्यार भी करते हो,पर डर जाते हो
बिना बात किए पास से गुज़र जाते हो
एक बार तो खता बता देते मेरी
क्यूं बार-बार मेरा कत्ल किया करते हो
Gulzar Shayari on love

 

ए दिल तैयार हो जा
नए जख्मों के लिए
कुछ लोग बड़े अदब से पेश आ रहें हैं||
कोई फूलों से सीखे सराफराजे जिंदगी जीना,
वहीं से फिर महकते हैं जहां से खाक होते हैं।

 

इजहार से नहीं पता लगता किसी के प्यार का
इन्तेजार बताता है, कि तलबगार कौन है||
फीस बता दो कितनी है,
मुफ्त कोई नहीं चाहता प्यार
यदि मुफ्त होता तो आवारा मजनुं गली गली होते

 

आँखों में हया हो तो
पर्दा दिल का ही काफी है
नहीं तो नक़ाब से भी होते हैं
इशारे मोहब्बत के..
किसी को उजाड़ कर बसे तो क्या कहे|
किसी को रुला कर हसे तो क्या हंसे||
Gulzar Shayari on love in hindi

 

कोई शहर ख्यालों सा, ढूंढता हूं|
एक शख्स आईने सा, ढूंढता हूं||
तुम आसमानी, फरिश्ते की बात करते हो|
मैं रिश्तो में, वफा ढूंढता हूं||

वो सुबह की आरती

वो घाट का किनारा

अगर तुम भी होते तो क्या बात होती

 

यहाँ हर किसी को, इशारों में झाँकने की आदत हैं|
दरवाजे खोल दो, कोई पूछने तक नहीं आएगा ||

 

Gulzar shayari on zindagi quotes collection

लोग तलाशते है, की कोई फिकरमंद हो
वरना कौन ठीक होता है हाल पूछने से
कद बढ़ता नहीं यूँ एडीयां उठाने से,
ऊँचाईया तो मिलती है, सर सर झुकाने से
अब न कोई शिकवा, न गिला, न मलाल रहा,
सितम तेरे भी बेहिसाब रहे सब्र मेरा भी कमाल रहा..
बड़ी अजीब सी है इन शहरों की रौशनी,
उजालो की बाबजूद भी चेहरे पहचानना मुश्किल है|
Gulzar shayari on zindagi

मोहब्बत का ख़ुमार उतरा तो ये एहसास हुआ,
जिसे मंजील समझते थे, वो तो बेमकसद रास्ता निकला|
चूम लो हर मुश्किल को अपना मान कर,
क्योकी ज़िन्दगी जैसी भी है, अपनी है|
देखकर चहरे की मासूमियत कही बिगड़ मत जाना,
ये मासूम दिखने वाले लोग अक्सर ज़िदगी तबाह कर देते है|
कितनी अजीब है नेकियो की जुस्त-जू
नमाज़ भी जल्दी में पढ़ते है, फिर से गुनाह करने के लिए|
रहने दे मुझे अँधेरे में कमबख्त
रौशनी में अपनों के असली चेहरे सामने आ जाते है
कहाँ से लाऊ मै इतना सब्र|
थोड़े में मिल क्यों नहीं जाते तुम

 

Gulzar Two Line Shayari Quotes Collection

gulzar shayari in hindi, gulzar shayari on love, gulzar shayari on zindagi, gulzar shayari in hindi 2 line, gulzar shayari on dosti, gulzar shayari on eyes, romantic gulzar shayari, gulzar Quotesin hindi, gulzar poetry in hindi, gulzar shayari

थोड़ा सा रफू करके देखिए ना
फिर से नई सी लगेगी,
जिंदगी ही तो है
मैं वो क्यों बनु जो तुम्हें चाहिए
तुम्हें वो कबूल क्यों नहीं जो मैं हूं
“gulzar two line shayari”
बहुत छाले हैं, उसके पैरों में
कमबख्त उसूलो पर चल होगा
सुनो…
जब कभी देख लुं तुमको
तो मुझे महसूस होता है कि दुनिया खूबसूरत है
बहुत अंदर तक जला देती हैं,
वो शिकायते जो बया नहीं होती
कौन कहता हैं कि हम झूठ नहीं बोलते
एक बार खैरियत तो पूछ के देखियें
वो चीज़ जिसे दिल कहते हैं,
हम भूल गए हैं रख के कहीं
कैसे करें हम ख़ुद को
तेरे प्यार के काबिल,
जब हम बदलते हैं, तो तुम शर्ते बदल देते हो
“Gulzar ki shayari hindi me”
शोर की तो उम्र होती हैं
ख़ामोशी तो सदाबहार होती हैं
“gulzar two line shayari”
वक्त रहता नहीं कही भी टिक कर,
आदत इसकी भी इंसान जैसी हैं
दिल अगर हैं तो दर्द भी होंगा,
इसका शायद कोई हल नहीं हैं
एक बार तो यूँ होगा, थोड़ा सा सुकून होगा
ना दिल में कसक होगी, ना सर में जूनून होगा

 

गुलज़ार साहब के कुछ कोट्स और शायरी

मैं हर रात सारी ख्वाहिशों को खुद से पहले सुला देता हूँ,
मगर रोज़ सुबह ये मुझसे पहले जाग जाती है।
आइना देख कर तसल्ली हुई,
हम को इस घर में जानता है कोई।
बीच आसमाँ में था
बात करते- करते ही
चांद इस तरह बुझा
जैसे फूंक से दिया
देखो तुम….
इतनी लम्बी सांस मत लिया करो
“गुलजार हिंदी कविता”
ज्यादा कुछ नहीं बदलता उम्र के साथ
बस बचपन की जिद्द समझौतों में बदल जाती हैं
ज्यादा कुछ नहीं बदलता उम्र के साथ
बस बचपन की जिद्द समझौतों में बदल जाती हैं
आप के बाद हर घड़ी हम ने,
आप के साथ ही गुज़ारी है।
हम तो अब याद भी नहीं करते,
आप को हिचकी लग गई कैसे?
टूट जाना चाहता हूँ, बिखर जाना चाहता हूँ
मै फिर से निखार जाना चाहता हूँ,
मानता हूँ मुश्किल हैं…
लेकिन मै गुलज़ार होना चाहता हूँ
उसने कागज की कई कश्तिया पानी उतारी
और, ये कह के बहा दी कि समन्दर में मिलेंगे

 

45+ Gulzar shayari in hindi 2 line

गुलज़ार साहब के बारे में एक बात कही जाती है की वो जब तक फिल्म की पूरी script नहीं पढ़ और समझ लेते तब तक वो गीत नहीं लिखते| इस बात से यह पता लगता है की वो अपने काम को लेकर कितने समर्पित थे और है| और यही कारण है की आज उनके एक के बाद एक गाने लोगो की जुबान से हटते ही नहीं है| इन्होने हिंदी और उर्दू के साथ और भी कई भाषाओ में गीतों की रचना की परन्तु ये अभी भी फ़ारसी भाषा में ही लिखते है| इनका कहना है की भाषाए कभी बाधा नहीं बनती और ना ही यह मरती है, उनका अपना ही अस्तित्व होता है| गुलज़ार साहब को सफ़ेद रंग से काफ़ी लगाव है इसलिए वो सदैव सफ़ेद कुर्ता पैजामा ही पहनते है| एक बार अपनी बेटी बोसकी (मेघना गुलज़ार) के कहने पर ग्रे रंग का कुर्ता पहना था| उन्हें टेनिस खेलना बहुत पसंद है|

इनका पारिवारिक जीवन 1973 से शुरू हुआ और इन्होने फिल्म अभिनेत्री राखी से शादी की और कुछ सालो बाद ही दोनों अलग अलग भी हो गए परन्तु उन्होंने कभी तलाक नहीं लिया| इनकी एक बेटी भी है जिनका नाम बोसकी (मेघना गुलज़ार) है| ये भी एक लेख़क और डायरेक्टर है|

इसे भी पढ़े: Download Full HD Movies & Web Series at one click

गुलज़ार साहब को अब तक 6 फिल्म अवार्ड, 21 फिल्म फेयर अवार्ड, एक ग्रैमी अवार्ड, एक साहित्य अकादमी अवार्ड, और 2004 में इन्हें पद्म भूषण और 2013 में इन्हें दादा साहेब फाल्के पुरूस्कार से भी नवाज़ा गया है| उनका लेखन आज भी जारी है और unhindi यह कामना करता है, की वो आगे भी इसी तरह अपनी गीतों और डायलोक से हमें ओतप्रोत करते रहे| आइये उनके “Gulzar shayari in hindi 2 line” पढ़ते है

 

कभी बेपनाह बरस पड़ी
कभी गुम सी है
ये बारिश भी कुछ कुछ तुम सी है|
मैंने ख़ामोशी को लफ्ज़ दिए
तुमने लफ्जो को ही खामोश कर दिए
सोचा था लिखूंगा तेरे मेरे वफ़ा के क़िस्से
लेकिन यार तूने तो स्याही में ही वेवफाई घोल दी
बेरोजगारी सी हो गई है ज़िन्दगी अपनी
मोहब्बत की नौकरी पर रख लो कोई मुझे
भुला देंगे तुमको भी ज़रा सब्र तो करो
रगरग में बसे हो थोडा समय तो दो
ना जाने किस हुनर को शायरी कहते हो तुम
हम तो वो लिखते है जो तुमसे कह नहीं पाते
नज़रो का खेल ही तो था
तुम चुरा न सकी और हम हटा न सके
Gulzar shayari in hindi 2 line
यूँ तो भीड़ काफ़ी हुआ करती थी महफ़िल में मेरी 
फिर मै सच बोलता गया और लोग उठते गए

 

Gulzar Quotes in hindi shayari collection

gulzar shayari in hindi, gulzar shayari on love, gulzar shayari on zindagi, gulzar shayari in hindi 2 line, gulzar shayari on dosti, gulzar shayari on eyes, romantic gulzar shayari, gulzar Quotesin hindi, gulzar poetry in hindi, gulzar shayari

घुटन क्या चीज़ है पूछिये उस बच्चे से
जो काम करता है खिलौने की दुकान पर दो वक्त की रोटी के लिए|
अक्सर उलझने भी मीठी हो सकती है
जलेबी इस बात की जिंदा मिसाल है
साँस के साथ अकेला चल रहा था
अब साँस गई तो सब साथ – साथ चलने लगे
“20+ Gulzar Quotes in hindi”
अब गिला शिकवा अपनो से हो तो ख़ामोशी ही भली
अब हर बात पर ज़ंग हो जरूरी तो नहीं
कुछ जख्मो की ओई उम्र नहीं होती
तमाम साथ उम्र चलते जिस्म के ख़ाक होने तक
Gulzar Quotes in hindi
रूठती हमेशा खुशियाँ ही है
दुख के कहाँ इतने सारे नखरे है
कुछ रिश्तो में मुनाफ़ा नहीं होता
पर ज़िन्दगी को आमिर बना देती है
अक्सर वही दिए हाथो को जला देते है
जिनको हम हवा से बचा रहे होते है
कुछ लोग काफ़ी ग़रीब होते है
उनके पास दौलत के सिवा कुछ नहीं होता

 

Romantic Gulzar Shayari and quotes

मोहब्बत जबरदस्ती अच्छी नहीं होती
चलो जब तुम्हारा दिल करे तुम मेरे हो जाना
बड़ी सिद्दत से राजी हुए है वो साथ चलने को
खुदा करे की मुझे सारी उम्र मंजिल ना मिले
एक खता रोज कर रहे है हम
जो मिलेगा नहीं उसी पर मर रहे है हम
आज वही कल है
जिस कल की फ़िकर तुम्हे कल थी
ख्यालों में गुम हो जाना
सवालों में घिर जाना
डूब जाना और जीने को तड़प जाना
बस इतना सा तो हैं तुमको चाहना
“Best romantic Gulzar shayari”
बेशक ही रिवाजों की जंजीरो ने बाँध रखा है
लेकिन ये दिल आज भी सिर्फ तुम्हारे लिए धड़कता है।
इश्क ना हो कोहरा हो जैसे
तुम्हारे सिवा कुछ दिखता ही नहीं
कुछ लोगो ने कहा की वह नहीं मिलेगी तुझे
हमने भी हँसकर कह दिया
इश्क रूहानी है मेरा नहीं चाहिए वह मुझे
प्यार निभाना आना चाहिए ज़नाब
हो तो किसी को भी जाता है
कितना माँगा है तुझे उस खुदा से कभी आना
मेरे शहर के दरगाह के धागे बतायेगे तुम्हे
romantic Gulzar shayari in Hindi

 

Gulzar poetry in hindi

gulzar shayari in hindi, gulzar shayari on love, gulzar shayari on zindagi, gulzar shayari in hindi 2 line, gulzar shayari on dosti, gulzar shayari on eyes, romantic gulzar shayari, gulzar Quotesin hindi, gulzar poetry in hindi, gulzar shayari

कुछ बातो से अनजान रहना ही बेहतर होता है
कभी कभी सब कुछ जान लेना भी बहुत दर्द देता है
अजीब है मेरा अकेलापन भी
ना ख़ुश हूँ, ना उदास हूँ
बस अकेला हूँ और खामोश हूँ
हुनर मोहब्बत का हर किसी को कहाँ आता है
लोग हुस्न पर फीदा होकर उसे मोहब्बत कहते है
Gulzar poetry in hindi
दिल की तह में दिमागों के घर हो गये
सारे रिश्ते इधर के उधर हो गये
चूम कर रोज सोते थे तस्वीर जो
आज जाने कहाँ बेखबर हो गये
दुबारा टूट गया यह नादान सा दिल
मै समझा नहीं पाया और वो समझ नहीं पाई
ना रूठने का डर ना मनाने की कोशिश
दिल से निकले हुए लोगो से अब शिकायत कैसी
कुछ लोग अपने दिल का ख़याल बहुत रखते है
अगर इधर नहीं लगता तो उधर लगा लेते है
कुछ इस तरह वक्त ने मुझ से सौदा किया
तजुर्बे देकर मेरी मासूमियत ले गया
“Gulzar poetry in hindi”
ज़िम्मेदारियां मजबुर कर देती है
अपना शहर छोड़ने को, वरना कौन.?
अपनी गली में जीना नहीं चाहता
अगर कोई तोहफा देना हो हमे, तो एक चुटकी इश्क़ दे देना।
जान लेने के लिये, इतना जहर काफी है।

 

Gulzar shayari on eyes

 
अक्सर लोग नज़रो को पढ़ लेते है
अपनी आंखे झुकाए रखना
बहुत दर्द था इस दिल में
उसने आँखों से पढ़कर मुझे कर्ज़दार कर दिया
“Gulzar shayari on eyes in hindi”
तेरी याद को पसंद आ गई है, मेरी आँखों की नमी
हँसना भी चाहू तो, रुला देती है तेरी कमी
वो ख़ानदानी रईस है
वो रखते है मिज़ाज नर्म अपना
तुम्हारा लहज़ा बता रहा है
तुम्हारी दौलत नई-नई है
सुनो, काजल अच्छा लगता है, आंखो में तेरी
ये कही जान ना ले ले मेरी.
“Gulzar Quotes, Shayari on Love in Hindi”
ख्वाईश सबकी है कि रिश्ते सुधरे..
पर चाहत है, शुरुआत उधर से हो
वो आये मेरी कब्र पर अपने हमसफ़र के साथ
कौन कहता है, की दफ़नाए को जलाया नहीं जा सकता
“Gulzar shayari on eyes in hindi”
कोई पूछ रहा है मेरी ज़िन्दगी की कीमत
मुझे याद आ रहा है तेरा हल्के से मुस्कुराना
अपनी ज़िन्दगी के सलीके कुछ इस कदर मोड़ लो
जो नज़रअंदाज करे उसे नज़र आना छोड़ दो
ज़िन्दगी दो लफ़्ज़ों में कुछ यूं अर्ज है
आधी कर्ज है तो आधी फर्ज है
अल्फाज़ तो तेरी शायरी से कई सीखे मैंने
मतलब तो दर्द सहने पर ही समझ आये हैं
थोड़ी दुआ मेरे लिए भी मांग लेते,
हम तो आपकी बद्दुआओ की भी कदर करते हैं

 

Gulzar sad shayari in hindi

gulzar shayari in hindi, gulzar shayari on love, gulzar shayari on zindagi, gulzar shayari in hindi 2 line, gulzar shayari on dosti, gulzar shayari on eyes, romantic gulzar shayari, gulzar Quotesin hindi, gulzar poetry in hindi, gulzar shayari

रोते रहे रात भर लेकिन ये फैसला न कर सके
की तुम याद आ रही हो या मै याद कर रहा हूँ
धुप तो यूँ ही बदनाम है
वरना जलाते तो लोग यहाँ एक दुसरे से भी है
“Gulzar sad shayari and quotes in hindi”
तुम चाहते तो निभा सकते थे
लेकिन बात तो यही बिगड़ गई की
तुमने कभी चाहा ही नहीं
कोई दस्तक दे रहा है दिल पर मेरे
लगता है कोई गम लेके आया है
कुछ चीज़े है जो पैसो से नहीं मिलती
और मुझे बस उन्ही चीजों का शौक है
“Gulzar sad shayari in hindi”
मैंने वहाँ भी सिर्फ तुम्हे माँगा था
जहाँ लोग सिर्फ अपनी खुशियाँ माँगते है|
हैरानी तो उन्हें तब हुई
जब उसने मुझे टूट कर भी मुस्कुराते हुए देखा
ख़ुश होना है तो बेवजह हो आइये
क्योकी वजह आज कल बहुत महँगी हो गई है
कितने मासूम होते हैं ये आँसू भी
ये गिरते भी उनके लिये हैं
जिन्हें इनकी परवाह नहीं होती
वो सही कहते थे, कि तेरे आंखो में डूब गये हैं हम
वरना आज यूं आंसू बनकर न बहते
जा कर कोई उसे ये खबर कर दो,
जो कभी मरता था तुम पे, अब मर गया वो
“Gulzar sad shayari collection image”
देख ज़िन्दगी इस तरह न रुला मुझको
अगर खफ़ा हुए तो छोड़ जायेगे तुझको
यूँ असर डाला है मतलबी लोगों ने दुनिया पर
हाल भी पूछो तो लोग समझते हैं कोई काम होगा
बचपन के खिलौने आजकल पूछते है मुझसे
कैसा लगता है जब जिंदगी खेलती है तुझसे
कभी – कभी हम इतने ख़ामोश हो जाते है की
दिल का धडकना भी शोर लगता है
वो कच्चे उम्र में किये गए पक्के वादे
आज भी मुझे किसी और का होने नहीं देती
बेशक,ख़ास तो है हम उनके लिए
लेकिन उनकी फुर्सत के हिसाब से

 

Gulzar Motivational Quotes in hindi

हैरान करके लोग मुझे ख़ुश होते है
और मै ख़ुश होकर लोगो को हैरान कर देता हूँ
मंजिले नहीं जिद्दी होती है
हासिल कहाँ नसीब से होती है
मगर वहाँ तूफ़ान भी हार जाते है
जहाँ कस्तिया जिद्द पर होती है
एक ना एक दिन हासिल कर ही लूंगा मंजिल..
“ठोकरे” ज़हर तो नहीं, जो खाकर मर जाऊंगा
अच्छा नहीं होता
बहुत ज्यादा अच्छा होना
आप ख़ुश है, ये बहुत अच्छी बात है
लेकिन, आप की वजह से कोई ख़ुश हो
ये सबसे अच्छी बात है
घर पहुच कर फ़ोन कर देना
ये कहने वाले को कभी न खोना
कैसे कह दू, कि महंगाई बहुत है,
मेरे शहर के चौराहे पर आज भी..
एक रुपये में कई कई दुआएं मिलती है
ऐसी कोई मंजिल नहीं जहां
तक पहुचने का कोई रास्ता ना हो
वक्त ऐसा ज़मीर है, जहाँ
बिना मेहनत के कुछ पैदा नहीं होता
“Motivational Gulzar Quotes image”
वो मुर्दे ही है, जिनके पास समस्याए नहीं होती
इसलिए ज़िन्दगी है, तो समस्याए भी होंगी
किसी को मनाने से पहले ये ज़रूर देख लेना की वो,
तुमसे नाराज़ है या परेशान
माना की वक्त सता रहा है
पर कैसे जीना है, वो भी बता रहा है
“gulzar motivational quotes shayari”
बहुत सी उलझनों का जबाब यही है
मै अपनी जगह सही हूँ
वो अपनी जगह सही है
“inspirational motivational gulzar quotes”
हमें तो सिर्फ ठेला दिखता है, सड़क पर
हक़ीकत में तो वो अपना पूरा घर खिचता है
हर दिन अच्छा नहीं हो सकता
लेकिन हर दिन कुछ न कुछ अच्छा ज़रूर होता है
बात क़िरदार की है, वरना
कद में तो साया भी बड़ा होता है
हँसना अच्छी बात है, पर
दूसरो पर नहीं
कदम कदम पे नई इम्तिहान रखती है
“जिंदगी”
तू मेरा कितना ख़याल रखती है

 

Last Line about gulzar ki shayari

यदि आपको “gulzar ki shayari hindi me” का यह post पसंद आया तो,आप इसे अपने social media की मदद से अपने दोस्तों में share करे, और हमारा उत्साह बढ़ाये| यदि आपको इस post से सम्बन्धित कोई सवाल सुझाव या कोई त्रुटी हो तो नीचे comment करें या हमें सीधा contact करे (जय हिंदी जय भारत)

Leave a Reply