Email क्या होता है- Full Form of Email

Computer और डिजिटल technology के क्षेत्र में इस्तेमाल होने वाले  Full Form of Email को हम सभी जानते है,  लगभग हर व्यक्ति इसका इस्तेमाल  करता है| यदि आप “full meaning of Mail” से जुडी सभी सवालो की विस्तृत जानकारी चाहते है, तो कृपया इस आर्टिकल के साथ बने रहें.

इतिहास में massage भेजने के कई तरीके थे – जैसे पत्र, पोस्टकार्ड, इत्यादि, लेकिन सन्देश भेजने के ये सभी तरीको में समय की बहुत बर्बादी होती थी| परन्तु समय के साथ हम बदलते गए और विज्ञान ने हमारे सामने email का अविष्कार किया, इस Invention of Email ने सन्देश भेजने के तरीके को पूरी तरह से बदल कर रख दिया| आइये इसके बारे में जानते है

 

Mail क्या होता है? – full form of Email in Hindi?

Email ka full form Electronic Mail  होता है, ईमेल का हिंदी में  मतलब इलेक्ट्रॉनिक मेल  होता है| इलेक्ट्रॉनिक संदेशों और डिजिटल डेटा का आदान-प्रदान करने की प्रक्रिया है|
सरल शब्दों में कहे तो, यह एक प्रक्रिया है जिसमे इन्टरनेट के माध्यम से आप किसी को भी Letter (पत्र ) भेज सकते है और प्राप्त भी कर सकते है| Mailing के लिए एक mobile या computer device, साधारण सा Internet connection, और एक email Id और थोड़ी बहुत कंप्यूटर की जानकारी की ज़रूरत होती है.

ईमेल के माध्यम से आप Text message, Media file, Image File, Pdf Books, Audio इत्यादि भेज भी सकते है और प्राप्त भी कर सकते है| लेकिन मेल से आप किसी भी प्रकार के .Exe फाइल यानी कंप्यूटर application या software को नहीं भेजा जा सकता है, क्योकी इससे Device में वायरस पहुँचने का ख़तरा होता है| लेकिन इन सॉफ्टवेर को zip or Rar format में convert करके send किया जा सकता है|

  • Mail Full Form In English: Electronic Mail
  • Mail ka Full Form: इलेक्ट्रॉनिक मेल

 

Email क्या होता है- Full Form of Email

पुराने समय में Letter के माध्यम से सन्देश भेजे जाते थे. लेकिन,  Email का आविष्कार होने से इसके बहुत लाभ थे क्योकी यह सस्ता सरल और सबसे सुरक्षित माध्यम है|

ईमेल के माध्यम से सन्देश भेजने में ना तो ज्यादा समय लगता है, ना ही डाक टिकट और ना ही Post Office जाने का खर्च और ना ही Letter खोने का डर और साथ ही massage की गोपनीयता (privecy) भी बनी रहती है यानी massage को केवल आप और प्राप्त करने वाला ही पढ़ सकता है|

आप meaning of Mail पढ़कर समझ गयें होंगे, इस पोस्ट में आगे और भी ज्ञानवर्धक जानकारी दी गई है|, जो आपके लिए उपयोगी साबित हो सकती है|

Newspaper का पूरा नाम- Full Form of Newspaper

 

Email का आविष्कार किसने किया – Who invented email

Email का आविष्कार Ray Tomlinson के द्वारा किया गया था, हालाँकि, Email invention controversy के अनुसार Email का आविष्कारक भारत के V. A. Shiva Ayyadurai को भी माना जाता है| शिव अय्यादुरई का कहना था की उन्होंने EMAIL” नामक इलेक्ट्रॉनिक मेल सॉफ्टवेयर को 1970 में Coding किया था|

लेकिन Email का आविष्कारक जो भी हो, उसने ईमेल का आविष्कार करके सन्देश भेजने की प्रक्रिया को आसन और सुरक्षित बना दिया, तो हम Tomlinson को ही Email का आविष्कारक मान कर इसके आविष्कार के बारे में जानते है|

1971 में Ray Tomlinson ने  ARPANET  के सर्वर पर पहला mail भेजा था, उसी समय  first email address – “[email protected]” था| इन्होने ने ही @ (At Sign) को user name और destination server से लिंक किया|

BIOS क्या है -कंप्यूटर के इसका क्या उपयोग  है

 

Email और Gmail में अंतर – Difference Between Email Vs Gmail

कई लोगो Email और Gmail में अंतर को नहीं समझ पाते, हालाँकि Email एक service है, और Gmail गूगल के द्वारा बनाया गया ईमेल प्रोवाइडर प्लेटफ़ॉर्म है,  Gmail के प्लेटफ़ॉर्म का इस्तेमाल करके हम ईमेल भेज सकते है| आइये Full form of Email Vs Gmail को अच्छे से समझते है –

 

TypesE- MailG- Mail
Full FormE- Mail का फुल फॉर्म इलेक्ट्रॉनिक मेल (Electronic Mail) होता है
G- Mail का फुल फॉर्म गूगल मेल (Google Mail) होता है
Definitionइलेक्ट्रॉनिक संदेशों और डिजिटल डेटा का आदान-प्रदान करने की प्रक्रिया है|
सरल शब्दों में कहे तो,
यह एक प्रक्रिया है जिसमे इन्टरनेट के माध्यम से आप किसी को भी Letter (पत्र ) भेज सकते है और प्राप्त भी कर सकते है|
जीमेल एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जो उपयोगकर्ताओं को ईमेल भेजने और प्राप्त करने की सुविधा देता है| यानी Gmail गूगल के द्वारा बनाया गया ईमेल प्रोवाइडर प्लेटफ़ॉर्म है, जिसकी मदद से आप Email भेज सकते है|
ExampleE-mail एक SMS की तरह है, जिसमे कुछ Text और Image होते है| जिसे हम किसी को send करते है या तो receive करते है
वही, Gmail एक सिम कार्ड की तरह होता है जो आपको SMS भेजने की सुविधा देता है। जिस प्रकार हम किसी को SMS भेजने के लिए अलग अलग Sim provider (सब्सक्राइबर आइडेंटिटी मॉड्यूल) जैसे - Bsnl, airtel, jio की मदद लेते है| ठीक उसी प्रकार ईमेल भेजने के लिए भी अलग अलग Webmail Providers की मदद लेते है
Availabilityचूकी यह एक प्रक्रिया या service है इसे भेजने के लिए Webmail Providers platform होनी चाहिए| जो हमें Gmail provide करता है
कुछ Best Webmail Providers है जिसका उपयोग e-mail भेजने के लिए किया जाता है| जैसे-
Yahoo mail
Gmail
Outlook
Zoho Mail
Rediff
Hotmail
Dependencyयह एक service है जिसे use करने के लिए आपको Webmail Providers (Gmail, Hotmail, Yahoomail इत्यादि ) की मदद लेनी होती है
यह एक पोस्ट ऑफिस की भाति कार्य करता है जहाँ से आप ईमेल भेज सकते है
Securityईमेल में security की कमी होती है
जीमेल सुरक्षा की दृष्टी से अच्छी मानी जाती है| गूगल अपनी इस जीमेल को अक्सर update करता रहता है और security issue आने पर अपने Users को तुरंत सूचित करता है
Spam Detectionइसमे spam detection feature जैसे कोई सुविधा नहीं होती है|
Gmail में spam detection feature होता है, जिसकी मदद से spam emails अपने आप ही detect कर लिया जाता है, और उसे छाँटकर अलग कर दिया जाता है
Virus Filter चूकी यह एक मात्र service है इसलिए इसमे वायरस फिल्टरिंग (Virus filtering) की सुविधा नहीं होती है
जीमेल में वायरस फिल्टरिंग (Virus filtering) की सुविधा होता है कोई भी email attachment को download करने से पहले वायरस scan होता है और सुरक्षा की पुष्टि होने पर ही attachment आपकी device में download होता है|
E-mail Scheduling ईमेल में कोई शेड्यूलिंग विकल्प (Scheduling options) नहीं होता है।
जीमेल ईमेल शेड्यूल किया जा सकता है। यानी आप mail को किसी निश्चित समय के लिए सेट करके छोड़ सकते है जिस समय पर mail सेट होगा उतने समय में अपने आप ही प्राप्तकर्ता के पास send हो जायेगा|
Extension Supportईमेल किसी भी एक्सटेंशन को support नहीं करता है। इससे यह ईमेल की स्थिति, email delivery status, scheduling emails इत्यादि को track नहीं किया जा सकता
जीमेल एक्सटेंशन को support करता है। इसी feature के कारण इससे send की गई ईमेल की स्थिति, email delivery status, scheduling emails इत्यादि को track किया जा सकता है|
User Interfaceइसका customization features की कोई सुविधा नहीं होती है, जिसके कारण इसका यूजर इंटरफेस आकर्षक नहीं होता है
जीमेल अपने यूजर को customization features की भरपूर सुविधा देता है| इसका यूजर इंटरफेस आकर्षक बनाने के लिए background wallpaper, color management, themes जैसी feature देता है| जिसकी मदद से यूजर अपने अनुसार background wallpaper, color, themes को बदल सकता है|
User Interfaceइसका customization features की कोई सुविधा नहीं होती है, जिसके कारण इसका यूजर इंटरफेस आकर्षक नहीं होता हैजीमेल अपने यूजर को customization features की भरपूर सुविधा देता है| इसका यूजर इंटरफेस आकर्षक बनाने के लिए background wallpaper, color management, themes जैसी feature देता है| जिसकी मदद से यूजर अपने अनुसार background wallpaper, color, themes को बदल सकता है|

 

Email Id क्या होता है – Full form of Email Id

Email ID के दो भाग होते है ये दोनों भाग @ Symbol के साथ अलग होते है जैसे yourname@gmail.com इसके @ से पहले आने वाले भाग को User-Name और  @ के बाद आने वाले भाग को Domain-Name कहते है|

 

  • यूजर-नेम (User-Name)

unhindi@gmail.com इस mail id में unhindi एक प्रकार का User-Name है आपके अनुसार User-Name कुछ भी हो सकता है जैसे आपका नाम, आपके office या school का नाम इत्यादि

 

  • डोमेन नेम ( Domain Name/  Plateform Name)

आप email भेजने के लिए जिस भी Plateform का उपयोग करते है उसका नाम @ के बाद लगता है और इससे पता चलता है की आपकी email id किस plateform पर बनी है जैसे – unhindi@gmail.com  इस id में @ के बाद Gmail.com लगा है यानी यह डोमेन नाम है

एक ही plateform पर इस्तेमाल होने वाले id में अलग अलग User के अलग अलग User-Name होते है लेकिन  Email Domain Name एक ही होता है जैसे-

  1. Yahoo mail के लिए [email protected]yahoo.com
  2. Gmail के लिए [email protected]Gmail.com
  3. Outlook के लिए [email protected]Outlook.com
  4. Rediff के लिए [email protected]Rediff.com
  5. Hotmail के लिए [email protected]Hotmail.com

LiFi की पूरी जानकारी Li Fi full form

 

Mail में CC और BCC क्या होता है इसके क्या उपयोग है (What is CC and BCC in Email)

अक्सर जब भी आप किसी को ईमेल send करते होंगे तो आपके सामने TO, CC और BBC का विकल्प जरूर दिखाई देता होगा| आइये जानते है की  CC और BCC का उपयोग क्यों किया जाता है (Why CC and BCC are used in mail)

What is CC and BCC in Email

 

ईमेल में CC का मतलब Carbon Copy होता है| ईमेल भेजने वाला इसका उपयोग तब करता है जब उसे exact वही ईमेल दुसरे कई और लोगो को भी भेजने हो| आसान भाषा में कहे तो CC की मदद से आप एक साथ और भी कई लोगो को वही mail भेज सकते है|

वही, email में BCC का मतलब  Blind Carbon Copy होता है| BBC ईमेल भेजते समय उपयोग किया जाने वाला एक विकल्प है| इसका इस्तेमाल करने से प्रमुख mail प्राप्तकर्ता को यह पता नहीं चलता है की ये ईमेल उसके आलावे और किस किस भो भेजी गई है| आइये इसे अच्छे से समझते है|

 

 

 

TO का क्या उपयोग होता है?

इस field में हम मुख्य ईमेल प्राप्तकर्ता का ईमेल एड्रेस डालते है|

 

Full form of Email CC 

CC का मतलब Carbon Copy होता है| अब हमें वही इमेल कई और लोगो को भेजना हो तो हम इस field में और भी कई ईमेल प्राप्तकर्ता के ईमेल एड्रेस डाल सकते है| और ये ईमेल मुख्य प्राप्तकर्ता के साथ साथ  CC Field वालो के पास भी जायेगा| और ये बात मुख्य ईमेल प्राप्तकर्ता को पता होंगी|

 

Full form of Email Bcc

BCC का मतलब ही होता है Blind Carbon Copy यानी इमेल की ऐसी Carbon Copy जो एक दुसरे mail प्राप्तकर्ता को दिखाई न दे| इसका उपयोग करने से ये किसी को पता नहीं चलेगा की एक ही mail  किस किस को भेजा गया है|

अब आप Email में Cc और Bcc का Use (Uses of Cc and Bcc in Email) समझ गए होंगे और अब आप इसका उपयोग करके आप अपना समय और मेहनत दोनों बचा सकते है|

IQ क्या होता है पूरी जानकारी

 

आपने What is Email in hindi के इस लेख में क्या सिखा?

“Full Form of Email in hindi” के इस लेख को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद, हमें उम्मीद है, की आपको यह हिंदी लेख जरूर पसंद आया होगा|

यदि आपने Email Account, Email Address, Username, Email Id, Domain Name और Email Vs Gmail के इस हिंदी-पोस्ट को अच्छे से पढ़ा होगा तो, इसमे दी गई जानकारी आपके लिए ज्ञानवर्धक साबित होगी।

यदि आपको unhindi की यह post पसंद आया तो,आप इसे अपने social media पर अपने दोस्तों में share करे, और हमारा उत्साह बढ़ाये| यदि आपको इस post से सम्बन्धित कोई सवाल सुझाव या कोई त्रुटी हो तो नीचे comment करें या हमें contact करे, और hindi meaning, full form in hindi, internet knowledge, how-to in hindi,  से सम्बंधित जानकारी पढ़ने के  लिए हमसे जुड़े रहें| (जय हिंदी जय भारत)

Leave a Reply