क्या आप जानते हैं, दुनिया की सबसे भारी धातु कौन सी है?

अक्सर हम मसल्स बनाने के लिए जिम जाते हैं और भारी से भारी डंबल्स को उठाते हैं, यदि हमें बाहर और बढ़ाना हो तो हम और भी ज्यादा वजन वाला डंबल को अपने Rod में जोड़ देते हैं. साधारण तौर पर डंबल्स की प्लेट लोहे की बनी होती है, जो इतना भारी तो होता ही है कि इसे हमारी मसल्स पर दबाव महसूस करें और हमारी Body के मसल गुरु होना शुरू हो जाए

हमें अब तक यह लगता है कि लोहा सबसे भारी धातु है, लेकिन ऐसा नहीं है, तो अब, क्या आप जानते हैं, दुनिया की सबसे भारी धातु कौन सी है? (heaviest metal in the world), चलिए दुनिया के सबसे भारी धातु ऑस्मियम (osmium) के बारे में विस्तार से जानते हैं.

दुनिया की सबसे भारी धातु | Heaviest Metal in The World

प्राकृतिक रूप से दुनिया की सबसे भारी धातु ऑस्मियम (Os) को कहा जाता है. ऑस्मियम (Os) नाम के इस धातु का घनत्व 22.6 ग्राम/सीसी होता है जो लेड से लगभग 2 गुना होता है. ऑस्मियम के 2 फीट लंबी, चौड़ी और ऊंची आकार के टुकड़े का वजन लगभग 1 हाथी के बराबर होता है. लेकिन यह केवल प्राकृतिक तौर पर दुनिया का सबसे भारी धातु है.

ऑस्मियम धातु की खोज 1803 में लंदन के रहने वाले स्मिथसन टैनैन्ट ने की थी. आवर्त सारणी में Osmium का संकेत Os है, इसका परमाणु भार 190 और परमाणु संख्या 76 है.

प्रतीकOs
परमाणु द्रव्यमान190.23 u
परमाणु क्रमांक76
इलेक्ट्रॉन विन्यास[Xe] 4f 14 5d 6 6s 2
गलनांक3,033 डिग्री सेल्सियस
रंगचांदी, नीला कास्ट

दुनिया की सबसे भारी धातु कौन सी है?
दुनिया की सबसे भारी धातु कौन सी है?

प्राकृतिक तौर पर कहने का अर्थ यह है कि इसे किसी LAB में नहीं बनाया गया है यह प्राकृतिक में पाया जाता है, लेकिन कृत्रिम रूप से बनाया गया, दुनिया का सबसे भारी धातु हैसियम है, इस धातु का घनत्व 40.7 ग्राम / सीसी होता है, जो लगभग ऑस्मियम (Os) के घनत्व का दुगना है, लेकिन हैसियम प्राकृतिक रूप से स्थिर धातु नहीं है, यानी अप्राकृतिक में निश्चित रूप से कभी नहीं मिलता है.

रसायन विज्ञान से जुड़े वैज्ञानिक ऐसा मानते हैं कि धरती पर पाए जाने वाले किस धातु का घनत्व 5 से अधिक होगा उसे भारी धातु के श्रेणी में रखा जाएगा इसलिए, कई बार आपने यूरेनियम का नाम जरूर सुना होगा इसका उपयोग परमाणु बम, बिजली उत्पादन, और मेडिकल के क्षेत्र में किया जाता है, प्राकृतिक में मौजूद दुनिया का सबसे भारी नाभिक वाला तत्व यूरेनियम (U238) है. यह एक Radioactive Element है

प्राकृतिक में ऐसे और भी कई सारे धातु हैं, जो लगभग ऑस्मियम (Os) के भार के बराबर होते हैं लेकिन प्राकृतिक रूप से दुनिया का सबसे Heaviest Metal ऑस्मियम (Os) को ही माना जाता है.

ऑस्मियम धातु का क्या उपयोग है

साधारण तौर परऑस्मियम (Os) धातु को कच्चे प्लैटिनम से निकाला जाता है, वैज्ञानिकों का मानना है कि यह धातु जहरीली होती है इसलिए इसका प्रयोग अन्य धातुओं के साथ मिलाकर किया जाता है.

ऑस्मियम नाम के दुनिया का सबसे भारी इस धातु का उपयोग फाउंटेन पेन की निब बनाने में किया जाता है, इसके साथ ही ग्रामोफोन के समय इसका उपयोग ग्रामोफोन रिकॉर्ड में उपयोग होने वाली सुई की नोक बनाने में किसका उपयोग किया जाता था.

निष्कर्ष

हमें उम्मीद है, की दुनिया की सबसे भारी धातु | Heaviest Metal in The World से जुड़ा यह पोस्ट आपको आपको जरूर पसंद आया होगा. यदि आपके मन में दुनिया की सबसे भारी धातु क्या है से जुड़े कोई भी प्रश्न, सलाह या सुझाव हो तो, Comment के माध्यम से हमें लिख सकते हैं, आपके इन्हीं Comment के माध्यम से हमें अपने Blog website में बहुत कुछ सीखने, सुधारने और बेहतर करने का मौका मिलता है.

यदि आपको ” धरती की सबसे भारी धातु” से संबंधित जानकारी Detailed में मिली और Helpfull लगी तो, कृपया इस पोस्ट को social network sites जैसे facebook twitter और whatsapp पर जरूर Share करें. और यदि आप ऐसे ही स्माटफोन गेजेट्स कंप्यूटर फाइनेंस फुल फॉर्मSmartphone Gadgets, computer, Technology, Tips and Tricks, Finance, और Full Form से जुड़े पोस्ट पढ़ना चाहते हैं, तो हमारे इस Unhindi.com को जरूर Subscribe करें. हमारे ब्लॉग को पढ़ने और हमसे से जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद

Leave a Reply