नासा क्या है-NASA full form की पूरी जानकारी

“NASA full form” से जुडी छोटी-बड़ी काफी सारी जानकारियाँ इंटरनेट में देखने और पढ़ने के लिए मिल जाएगी. लेकिन Unhindi के इस post में आपको इस लेख में Nasa full form in Hindi से जुडी, एक अच्छी और विस्तारपूर्वक जानकारी पढ़ने को मिलेगी जैसे- What is the goal of NASA?, Where is Headquarter?, Who is the chairman of NASA?,  official website, History of nasa, Some achievements and space missions, What is apollo mission इत्यादि . तो कृपया इस आर्टिकल के साथ बने रहें.

नासा क्या है . Full form of NASA

NASA संयुक्त राज्य अमेरिका की एक स्पेस एजेंसी है, NASA ka Full FormNational Aeronautics and Space Administration” है, हिंदी में नासा को “नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन” कहते है. इसका गठन “National Advisory Committee for Aeronautics” के बदले किया गया था. इसका कार्य अंतरिक्ष कार्यक्रमों को संचालित करने और अन्तरिक्ष में मौजूद ग्रहों की घटनाओं और एरोनॉटिक्स के विषय पर research करना है.

देशअमेरिका
नासा का मुख्यालय (NASA Headquarter)वॉशिंगटन डी॰ सी॰, संयुक्त राज्य अमेरिका
नासा की स्थापना29 जुलाई 1958, यूनाइटेड स्टेट्‍स
नासा के संस्थापकड्वाइट डेविड आइज़नहावर (Dwight D Eisenhower)
नासा के मालिकड्वाइट डेविड आइज़नहावर (Dwight D Eisenhower)
नासा का कार्यअंतरिक्ष पर रिसर्च करना, space related programs और
Aeronautics के ऊपर रिसर्च करना
नासा के अध्यक्षजिम ब्रिडेंस्टाइन (Jim Bridenstine)
Nasa के बारे में पूरी जानकारी

नासा क्या है . Nasa Full Form in Hindi

जैसे भारत की अंतरिक्ष कार्यकर्मो का संपादन ISRO (Indian space research organization) के द्वारा संपन्न की जाती है ठीक उसी प्रकार नासा  संयुक्त राज्य अमेरिका यानी  (USA) की सार्वजनिक स्पेस एजेंसी (Space Agency) है। जो अमेरिका के सारे अंतरिक्ष कार्यक्रमों  और एरोनॉटिक्स व एरोस्पेस संशोधनो से जुड़े कार्यो को सपन्न करने का काम करती है.

नासा की स्थापना 1 अक्टूबर 1958 में किया गया. इसकी स्थापना के लिए  National Aeronautic Space एक्ट तैयार किया गया और अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति Dwight D. Eisenhower ने उस एक्ट पर हस्ताक्षर किये थे.

नासा क्या है-NASA full form की पूरी जानकारी
Nasa Full Form In hindi

नासा का क्या काम है . Meaning & Full Form of NASA

नासा को अंतरिक्ष और एरोस्पेस संशोधनो के लिए स्थापित किया गया है. अर्थात यह एक संस्थान के जैसी कार्य करती है और हरेक संस्थान का एक उदेश्य होता है. जो उसके नाम के साथ जुडा होता है- और नासा का मोटो- For the Benefit of All है. और NASA का Vision – मानवता के लाभ के लिए ज्ञान का आविष्कार और विस्तार करना है । यानी नासा की यह संस्था Aeronautics और aerospace संशोधनो से जुड़े कार्यो का लाभ न सिर्फ कोई ख़ास देश के लिए होगा बल्कि पुरे ब्रह्माण्ड को इसका लाभ मिलेगा

नासा का हेडडक्वार्टर कहाँ है . NASA ka Headquarter kaha hai

जैसे की हम सब जानते है की नासा अमेरिका की एक स्पेस एजेंसी है. इसलिए नासा का मुख्यालय (NASA Headquarter) को अमेरिका के  वाशिंगटन डी. सी. (Washington, D.C.) शहर में स्थापित गया है.  नासा के मुख्यालय की अक्षांश और देशांतर विस्तार  38°52′59″N 77°0′59″W है.

नासा की कार्यप्रगति को देखकर अमेरिकी सरकार ने  संयुक्त राज्य भर में इसके 10 नासा केंद्र और स्थापित किये. जिसकी सहायता से नासा अपनी कार्यशक्ति को और बढ़ा सके।  नासा अपने कार्यो को कई भागो और विभागों में बाटकर कार्य करती है. इसके विभागों के कार्यो पे एक रोशनी डालते है.

अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी विभाग:- यह विभाग अंतरिक्ष विज्ञान और अन्वेषण प्रौद्योगिकियों के विकास के कार्यो का संचालन करती है.

एरोनॉटिक्स विभाग:- यह उन्नत विमानन प्रौद्योगिकियों के विकास का कार्य करती है।

मानव अन्वेषण और संचालन: यह मानवयुक्त अंतरिक्ष मिशनों, अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के प्रबंधन के साथ-साथ मानव और रोबोट अन्वेषण कार्यक्रमों के लिए लॉन्चिंग सेवाओं, अंतरिक्ष परिवहन और अंतरिक्ष संचार से संबंधित संचालन का कार्य करती है.

विज्ञान प्रौद्योगिकी विभाग: यह पृथ्वी, सौर मंडल और ब्रह्मांड की उत्पत्ति, संरचना, विकास और भविष्य को समझने के लिए डिज़ाइन किए गए कार्यक्रमों की रुपरेखा तैयार करती है.

NASA की आधिकारिक वेबसाइट (NASA official website)

NASA की अपनी एक आधिकारिक वेबसाइट है जिसका नाम :-NASA ki official website: https://www.nasa.gov/  है. और उस website पर नासा अपनी अंतरिक्ष और एरोस्पेस संशोधनो से जुडी सारी जानकारियां, तस्वीरे, विडियो और अंतरिक्ष से संबधित कई सारे post share करता रहता है.

नासा का इतिहास (History of Nasa in Hindi)

अब हम Nasa Full Form in Hindiऔर What Is Nasa की जानकारी हासिल करने के बाद नासा की पृष्ट भूमि यानी इसके इतिहास पर एक नज़र डालते है. नासा के गठन से पहले अंतरिक्ष और एरोस्पेस संशोधनो को NACA यानी  National Advisory Committee For Aeronautics की देख रेख में किया जाता था.

लेकिन बाद में National Aeronautic Space एक्ट के तहत 1 अक्टूबर 1958 को  National Advisory Committee For Aeronautics को नासा में विलय कर दिया गया और उसके बाद अंतरिक्ष के सारे संशोधनो को नासा की देख रेख में ही किया जाने लगा. वर्तमान में नासा के पास 8000 से भी ज्यादा कर्मचारी, 100 मिलियन अमेरिकी डॉलर का वार्षिक बजट है.

नासा के कुछ उपलब्धियाँ और अंतरिक्ष मिशन  . Top 10 NASA mission

नासा ने अभी तक बहुत सारे अंतरिक्ष मिशन को अंजाम दिया है. और यदि आप इन सारे मिशन के बारे में जानकारी, तस्वीरे और विडियो देख सकते है बस आपको नासा की इस लिंक https://www.nasa.gov/missions पे click कर इनके बारे में जान सकते है. लेकिन NASA full form in hindi के इस लेख में मै आपको nasa mission की 10 महत्वपूर्ण मिशन की संक्षिप्त जानकारी दूंगा.

  • Pioneer
  • WMAP
  • Voyager
  • apollo
  • spitzer
  • chandra
  • viking
  • Hubble

आइये what is nasa के इस post में नासा के कुछ महत्वपूर्ण satellite और मिशन के बारे में कुछ फैक्ट जानते है.

1. Pioneer 10 और 11 के बारे में (Pioneer 10 aur 11 kya hai) :-

नासा ने अपना सबसे पहला अंतरिक्ष यान Pioneer 10 को2 मार्च 1972 में launch किया. और ठीक इसके एक वर्ष बाद नासा ने अपना दूसरा  अंतरिक्ष यान Pioneer 11 को 5 अप्रैल, 1973 में एक एटलस सेंटर / TE364-4 लॉन्च वाहन से प्रक्षेपित किया गया था।

पायनियर 10 फोटोजेनिक गैस निर्मित ग्रहों बृहस्पति और शनि के बिच स्थित क्षुद्रग्रह बेल्ट ( asteroid belt) से गुजरने वाला पहला अंतरिक्ष यान था. साथ ही उन दोनों ग्रहों  बिच स्थित मिल्की वे गैलेक्सी और सितारों की भी महत्वपूर्ण जानकारी हासिल हुई.

क्षुद्रग्रह बेल्ट एक डोनट के आकार का क्षेत्र है. और पायनियर 10 ने  15 जुलाई 1972 को इसी क्षुद्रग्रह बेल्ट में प्रवेश किया, क्षुद्रग्रह बेल्ट का आकार लगभग 280 मिलियन किलोमीटर चौड़ा और 80 मिलियन किलोमीटर मोटा है। पायनियर 10 ने इस बेल्ट के बारे में और कई जानकारियाँ इकट्ठी की जैसे की दोनों ग्रहों  बिच स्थित मिल्की वे गैलेक्सी 45,000 मील प्रति घंटे (72,000 किलोमीटर प्रति घंटे) तक की गति से यात्रा करती है.

पायनियर 10 , NASA mission की एक शानदार उपलब्धि के रूप में उभर कर सामने आया. और 21 महीने बाद यानी 3 दिसंबर, 1973 को 82,000 मील प्रति घंटे (131,200 किलोमीटर प्रति घंटा) की गति के साथ फिर बृहस्पति ग्रह की ओर चला गया।

और बृहस्पति ग्रह पर जाकर  great red spot की बहुत ही शानदार और अद्भुत तस्वीरे नासा को भेजी. पायनियर 10 एक बार फिर से  लगभग 1 वर्ष बाद शनि ग्रह की ओर चला गया. और वहाँ पहुच कर  छोटे चंद्रमाओं  की खोज की. लेकिन वर्तमान समय में ये दोनों अंतरिक्ष यान (space shuttle) ने नासा से संपर्क तोड़ दिया है. मतलब अब ये नासा को डाटा भेजने में असमर्थ हो चूका है.

2. Voyager 1 और Voyager 2 क्या है  (Voyager 1 aur 2 kya hai)

Pioneer 10 और 11 के बाद नासा ने 1977  में  Cape Canaveral, Florida से दो और अंतरिक्ष यान (space shuttle) को प्रक्षेपित की जिसको Voyager 1 और Voyager 2 नाम दिया गया. Voyager 2 पहली ऐसी मानवनिर्मित वस्तु है जो पृथ्वी से सबसे दुरी पर स्थित है.

Voyager को  बृहस्पति, शनि और शनि ग्रह  के चारो ओर के ring यानी छल्ले और दो ग्रहों के बड़े चंद्रमाओं का करीबी से अध्ययन करने के लिए बनाया गया था. इसने चंद्रमा पर स्थित ज्वालामुखी की भी जानकारी के साथ साथ 10 नए चंद्रमाओं की खोज करने में सफ़लता हासिल की. ये 2025 तक रेडियो सिग्नल भेजने में सक्षम है.

3. WMAP mission क्या है  (Wmap kya hai)

WMAP का पूरा नाम  Wilkinson Microwave Anisotropy Probe है. इसे कॉस्मिक माइक्रोवेव बैकग्राउंड रेडिएश की गणना करने के लिए बनाया गया था. साथ ही ब्रह्मांड की प्रकृति और उत्पत्ति के बारे में कॉस्मोलॉजिकल सिद्धांतों की जानकारी हासिल करने में सक्षम था.

WMAP अंतरिक्ष यान 20 अप्रैल, 2001 को कैनेडी के स्पेस सेंटर में परिक्षण के ले जाया गया और डेल्टा II 7425 रॉकेट के माध्यम से 30 जून, 2001 को लॉन्च किया गया

WMAP ने नासा और पूरी दुनिया को और भी कई अहम् जानकारियाँ प्रदान की, WMAP के द्वारा प्रदान की गई डाटा से वैज्ञानिको ने  ब्रह्मांड की सटीक उम्र लगभग 13.7 बिलियन वर्ष है और ब्रह्मांड का लगभग 95 %  हिस्सा डार्क मैटर और डार्क एनर्जी जैसी चीजों में हिस्सा है.

4. Hubble क्या है  (Hubble kya hai)

हबल एक स्पेस टेलीस्कोप है. इसे 1990 में द्वारा लॉन्च किया गया था. इसका नाम खगोलविद एडविन हबल के सम्मान में रखा गया था. जो एक trailblazing astronomer थे. हबल की सहायता से एक विस्तारपूर्ण ब्रह्मांड की पुष्टि की गई  जिसने बिग बैंग सिद्धांत के लिए नींव प्रदान की। आइये इसके बारे में कुछ और फैक्ट जानते है

यही इसकी आकार की बात करे तो इसकी लंबाई: 43.5 फीट (13.2 मीटर) वजन (लॉन्च पर): लगभग 24,000 पाउंड (10,800 किलोग्राम) व्यास (सबसे व्यापक बिंदु पर): 14 फीट (4.2 मीटर) है .इसकी गति लगभग 17,000 मील प्रति घंटे (27,000 किलोमीटर प्रति घंटे) और  इसे पृथ्वी का पूरा एक चक्कर लगाने में लगभग 95 मिनट का समय लगता है.

Hubble telescope का ऊर्जा का मुख्य स्रोत सूर्य है. इसमें  25 फुट के दो सौर पैनल लगाये गए है. और ये लगभग लगभग 5,500 वाट की उर्जा संचारित कर सकता है. उर्जा को संरक्षित करने के लिए इसमें 6 निकल हाइड्रोजन (NiH) पावर स्टोरेज वाली बैटरी लगे गई है. जो लगभग 22 औसत कार बैटरी के बराबर है.

हबल (Hubble telescope fact) प्रति वर्ष लगभग 10000 गीगाबाइट यानी  10 टेराबाइट नए डेटा (तस्वीरे और विडियो) भेजता है. यदि वर्तमान की बात की जाये तो इसके पास 150 Terabyte Storage Data का संग्रह है.

5. Apollo mission क्या है  (Apollo kya hai)

Apollo नासा का सबसे महत्वपूर्ण space mission था. चंद्रमा पर अपोलो 11 को 20 जुलाई, 1969 में लैंड कराया गया जिसमे कमांडर नील आर्मस्ट्रांग (Neil Armstrong), कमांड मॉड्यूल पायलट- माइकल कोलिन्स(Michael Collins) और लूनर मॉड्यूल पायलट- एडविन “बज़” एल्ड्रिन (Edwin “Buzz” Aldrin) थे.

ये दुनिया का पहला मानव रहित moon mission था. जिसमे अमेरिकी  के कुल 11 अंतरिक्ष यात्रीयो ने चंद्रमा पर पहुचकर इतिहास रच डाला और उसी nasa moon mission के परिणामस्वरूप नील आर्मस्ट्रांग चाँद पर कदम रखने वाले पहले इंसान बने. और उन्हों ने अपने पैरो के निशान को देखकर कहा  “That’s one small step for a man. One giant leap for mankind.”– Neil Armstrong. यानी “मानव का यह एक छोटा कदम, मानवता की एक बडी छलांग है”

Apollo mission का लक्ष्य अमेरिका के 11 अंतरिक्ष यात्रीयो को चंद्रमा पर उतारने और उन्हें सुरक्षित रूप से पृथ्वी पर वापस लाने का था. साथ ही उनके कुछ और भी लक्ष्य निर्धारित थे जैसे-

  • अंतरिक्ष में अन्य राष्ट्रीय हित के लिए चाँद पर प्रौद्योगिकी की स्थापना करना
  • संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए अंतरिक्ष में preeminence प्राप्त करना।
  • चंद्रमा के वैज्ञानिक अन्वेषण का एक कार्यक्रम तैयार करना।
  • चंद्र वातावरण में काम करने के लिए मानव क्षमता का विकास करना।

6. Spirit and Opportunity क्या है  (Spirit and Opportunity kya hai)

मंगल ग्रह के सतह और भूविज्ञान से जुड़े रहस्यों से पर्दा उठाने के लिए नासा ने 2003 में एक रोबोट स्पेस मिशन (robotic space mission) को बनाया जिसे मार्स एक्सप्लोरेशन रोवर (MER) मिशन के नाम से जाना गया.

इस mission में दो रोबोट स्पिरिट और ऑपर्च्युनिटी (Spirit and Opportunity) को शामिल किया गया था. दोनों जनवरी 2004 में मंगल ग्रह के अलग अलग हिस्सों पर उतारे. और इन रोबोट खोजकर्ताओं ने मंगल ग्रह की सतह पर रहकर मीलों तक की दुरी तय की और कई सारे महत्वपूर्ण डाटा और जानकारियाँ संग्रहित की जैसे-

  • वहा के क्षेत्र विशेष और भूविज्ञान का संचालन किया
  • मंगल ग्रह के वायुमंडलीय स्थिति का अवलोकन किया
  • मंगल पर पड़े वर्षो पुराने चट्टानों और मिट्टी का अवलोकन किया
  • पानी की गतिविधि के लिए सुराग की तलाश की
नासा क्या है-NASA full form की पूरी जानकारी

नासा ने और भी कई सारे अंतरिक्ष अभियान की मदद से अपने आप में एक अन्तरिक्ष खोजी बन चूका है. इतना ही नहीं नासा को मालूम है की यह ब्रह्मांड बहुत विशाल है इसलिए नासा पूरी दुनिया के Space Agency के साथ मिलकर इस विशाल ब्रह्मांड में छिपे कई राज़ से पर्दे उठाने की कोशिश कर रहा है. नासा का यह भी अनुमान है की एक न एक दिन पृथ्वी का अंत होगा और इसके लिए ये दुसरे ग्रह की तलाश भी कर रहे है. नासा और दुनिया की अन्य space agency शायद कोई और जिवंत ग्रह की खोज कर ले.

FAQs Related NASA Full Form In Hindi

इस पोस्ट में, हमने “NASA क्या है” और “NASA ka Full Form kya hai” इसके अलावे इसे इतिहास और कार्य के बारे में भी हमने जाना, लेकिन क्या इतनी बड़ी “space research organization” के बारे में इतनी जानकारी काफी है, नहीं ना….! इसलिए आइये जानते है नासा से जुड़े कुछ और सवाल और “NASA Meaning Related FAQs & QnA” के बारे में.

  1. नासा क्या है?

    नासा का फुल फॉर्मNational Aeronautics and Space Administration” है, और शायद यह कहना गलत नहीं होगा, की यह दुनिया की सबसे बड़ी space research organization है.

  2. नासा का मुख्यालय कहाँ है?

    NASA ka Headquarter वाशिंगटन, डी.सी., संयुक्त राज्य अमेरिका” में स्थित है.


  3. नासा की स्थापना कब हुई

    नासा की स्थापना 29 July 1958 को United States में US Government द्वारा की गई थी. वर्तमान में यह National Aeronautics and Space अधिनियम के अंतर्गत कार्य करता है.

NASA FULL FORM IN HINDI में आपने क्या सिखा?

NASA Ke Bare Mein” पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद, हमें उम्मीद है, की आपको जानकारी से भरा यह लेख (What is nasa In Hindi) “nasa full form” आपको जरूर पसंद आया होगा. यदि आपको unhindi की यह post “Nasa Ka Full Form” पसंद आया तो,आप इसे अपने social media की मदद से अपने दोस्तों में share करे, और हमारा उत्साह बढ़ाये. यदि आपको इस post से सम्बन्धित कोई सवाल सुझाव या कोई त्रुटी हो तो नीचे comment करें या हमें सीधा contact करे, और hindi meaning, full form in hindi, internet knowledge, how-to in hindi,  से सम्बंधित जानकारी पाने के लिए हमसे जुड़े रहें. (जय हिंदी जय भारत)

Leave a Reply