SHO क्या होता है-SHO Ka Full Form

क्या आप पुलिस के पद से सम्बंधित Sho Ka Full Form के बारे में जानते है| यदि आप “Full Meaning of Sho” से जुडी सभी सवालो की विस्तृत जानकारी चाहते है, तो कृपया इस आर्टिकल के साथ बने रहें. क्यूंकि आज हम Sho Kya Hota Hai | Sho Kaise Bane | Sho का वेतन कितना होता है | Sho क्या काम करता है. इत्यादि से जुडी सभी ज्ञानवर्धक जानकारी को समझेंगे.

इस post को पढ़ने के साथ आप BSF क्या है |BFSI का फुल फॉर्म क्या होता है भारत के लिए यह क्या कार्य करता है  के पोस्ट को भी ज़रूर पढ़े|

SHO क्या होता है? – SHO ka full form?

SHO ka Full Form Station House Officer होता है SHO का हिंदी में  मतलब स्टेशन हाउस अधिकारी होता है| यह पुलिस डिपार्टमेंट का एक ऑफिसर होता है,

चूकी, यह पुलिस स्टेशन का प्रमुख या अधिकारी होता है इसलिए, Station House Officer का काम में अपने इलाके के पुलिस स्टेशन के कामकाज और अपने अधिकार  क्षेत्र के कानून व्यवस्था को बनाए रखने की जिम्मेवारी होती है| इसे रैंक-पोस्ट के लिए तीन सितारे और कंधे के पट्टे पर एक लाल और नीली पट्टी वाली रिबन का प्रतीक चिन्ह होता है|

  • SHO Full Form in police: Station House Officer
  • SHO ka Full Form: स्टेशन हाउस अधिकारी

Station House Officer (SHO) का पद Sub-Inspector (SI) के ऊपर होता है यानी SHO, Sub-Inspector से Senior होता है. लेकिन यह Superintendent of Police (DSP) के पद से निचे कार्य करता है, यानी Station House Officer, Superintendent of Police से junior होता है और इसके अधीन कार्य करता है.

SHO, अपने क्षेत्र के अपराधों की जांच और कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए Sub-inspector, Head Constable and Constables के साथ टीम बनाकर कार्य करती है. इसे अपने कार्यक्षेत्र में हो रहे अपराधिक मामलो के संबंध में अदालत में उपस्थित होने का अधिकार होता है। आप SHO full form पढ़कर समझ गयें होंगे की SHO kya hota hai. इस पोस्ट में आगे और भी ज्ञानवर्धक जानकारी दी गई है|, जो आपके लिए उपयोगी साबित हो सकती है|

SHO कौन होता है-SHO ka full form

Station House Officer के लिए योग्यता और मानदंड – SHO SYLLABUS and Qualification in hindi

एस.एच.ओ बनने के लिए किसी भी प्रकार की डायरेक्ट Vacancies नहीं होती है. Sub-inspector को प्रमोशन के माध्यम से Station House Officer के पद के लिए चुना जाता है. मतलब SSC CPO में उतीर्ण होने के बाद आपको पहले सब इंस्पेक्टर के रूप में नियुक्त किया जाएगा और फिर कुछ वर्षों के काम के बाद आपको एसएचओ या इंस्पेक्टर के रूप में पदोन्नत किया जाएगा। SHO बनने के लिए आपको SSC CPO का Syllabus को ही पढ़ना होगा

सरल भाषा में कहे तो, SHO कोई डायरेक्ट पोस्ट नहीं, बल्कि यह एक प्रमोशनल पोस्ट है. SHO बनने के लिए, आपको SSC CPO  (Staff Selection Commission Central Police Organization) की परीक्षा में शामिल होना होगा, और इसे उत्तीर्ण करना होगा। इसके बाद उम्मीदवारों का चयन सब-इंस्पेक्टर की भूमिका के लिए किया जाता है जो एसएचओ को सहायता प्रदान करता है।

एक एसएचओ को एक सब इंस्पेक्टर के रूप में भी माना जाता है जो एक इलाके के पुलिस स्टेशन का प्रभारी होता है। यानी Sub-inspector ही Station House Officer बनता है, और Sub-inspector बनने के लिए योग्यता मानदंड (Minimum Qualification of SHO) निम्नलिखित है:-

  • इसके लिए उम्मीदवार के पास Bachelor’s Degree (स्नातक की डिग्री) होना अनिवार्य है.
  • एक उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज / संस्थान से 50% अंकों के साथ किसी भी विषय में स्नातक होना चाहिए।

एस.एच.ओ की कार्यशक्ति- Duties of SHO

  • चूकी, यह एक स्टेशन हाउस अधिकारी होता है, इसलिए यह आपराधिक जांच करने और पुलिस स्टेशन की ओर से अदालत में भाग ले सकता है.
  • कानून और व्यवस्था को बनाए रखना और आपराधिक गतिविधियों को रोकना
  • आपराधिक गतिविधियों के होने पर अपने सहायक के साथ घटना स्थल की जाँच करना
  • पर्यवेक्षण और व्यक्तिगत प्रशासन के रूप में कार्य करना
  • अपने अधीन कार्य कर रहे अधीनस्थों को सरकारी सहायता और अनुशासन में रखना
  • अपने अधिकार – क्षेत्र में पैट्रोलिंग की व्यवस्था करना
  • Antisocial Elements और Bad characters पर निगरानी रखना और वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी रिपोर्ट देना
  • पुलिस के दायित्वों और क्षमताओं के लिए आंकड़ों का वर्गीकरण करना

SHO की सैलरी कितनी होती है – SHO Salary in hindi

SHO का वेतन प्रतिमाह ₹27000 से लेकर ₹104400 के बिच में होता है? इनकी सैलरी प्रदेश सरकार की ज़िमेदारी होती है, इसके अलावे कुछ और भी प्रमुख  पुलिस अधिकारि होते है जो SHO के अधीन काम करते है उनकी सैलरी इस प्रकार होती है –

पुलिस अधिकारी पुलिस अधिकारी वेतन
Additional Director General (ADG)2,05,400 RS /month
Assistant Sub Inspector (ASI)60,600 RS /month
Assistant Commissioner of Police (ACP)46800 – 1,17,300 RS + Grade/month
Deputy Commissioner of Police (DCP)46800 – 1,17,300 RS + Grade/month
Deputy Inspector General (DIG)2,01,000 RS /month
Indian Police service (IPS)46800 – 1,17,300 RS + Grade/month
Inspector27900 – 1,04,400 RS + Grade /month
Inspector General (IG)1,12,000 – 2,01,000 RS /month
Special Commissioner of Police1,12,000 – 2,01,000 RS /month
Sub Inspector (Radio Tech)27900 – 1,04,400 RS /month
Sub Inspector (Storeman Tech)27900 – 1,04,400 RS /month
Sub Inspector Wireless Operator27900 – 1,04,400 RS /month

पुलिस अधिकारियों के पद से जुडी फुल फॉर्म- SHO Full Form In Police

पुलिस अधिकारियों के कई पद होते है और प्रत्येक पद के लिए एक नाम होता है जैसे – SO, CO, SP, DGP इत्यादि इनके फुल फॉर्म के बारे में भी जानते है-

  • SO :- Station Officer (स्टेशन अधिकारी)
  • CO :- Circle Officer (अनुमंडल अधिकारी)
  • SP :- Superintendent of Police (पुलिस अधीक्षक)
  • DSP :- Deputy Superintendent of Police (पुलिस उप अधीक्षक)
  • DCP:- Assistant Commissioner of Police (सहायक पुलिस आयुक्त)
  • DIG :- Deputy Inspector of General (उप महानिरीक्षक)
  • IG :- Inspector General (इंस्पेक्टर जनरल)
  • SSP :- Senior Superintendent of Police (वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक)
  • IAS :- Indian Administrative Service (भारतीय प्रशासनिक सेवा’)
  • ASI :- Assistant Sub Inspector (सहायक उप निरीक्षक)
  • ACP:- Assistant Commissioner of Police (सहायक पुलिस आयुक्त)
  • IPS :- Indian Police Service (भारतीय पुलिस सेवा)

SHO और DSP पद में सीनियर कौन होता है- SHO ka Full Form In Hindi

यदि पुलिस रैंक और इसके पदों को देखा जाए तो इसका क्रम कुछ इस प्रकार होगा:-

Superintendent of Police (DSP)  > Station House Officer > Sub Inspector > Assistant Sub Inspector > Head Constable > Constables

अत: अब आप समझ चुके होंगे की SHO और DSP पद में सीनियर कौन होता है?

SHO संक्षिप्त रूप के अन्य फुल फॉर्म (Some other popular full forms of SHO)

अब तक आप SHO full form से जुड़ी इस पोस्ट को पढ़कर समझ गयें होंगे की SHO क्या है? लेकिन SHO के कुछ अन्य लोकप्रिय पूर्ण रूप भी है जिसका उपयोग और भी कई फुल फॉर्म को व्यक्त करने में किया जाता है| इसलिए SHO Meanings in Hindi बारे में और भी जानकारी प्राप्त करते है|

  • Safety and Health Official
  • School Holidays Only
  • Seahorse.org
  • Self-Help Organization
  • Senior Health Officer
  • Senior Hearing Officer
  • Senior House Officer
  • Senior Housing Option
  • Simple Harmonic Oscillator
  • Smokers’ Helpline Online (resource)
  • Soft Handoff
  • State Health Officer
  • Station Head Officer
  • Station House Officer (police)
  • Super High Output
  • Super High Output
  • Super Hub Office
  • Surface Hors Oeuvre

FAQ Related to SHO Syllabus and Qualification

इस पोस्ट को पढ़ने के बाद भी यदि आपके मन कोई सवाल है, तो इस SHO Full Form FAQs & SHO syllabus QnA की मदद से आपके सारे doubts clear हो जायेगे –

  1. एसएचओ का फुल फॉर्म क्या है?

    एसएचओ का मतलब स्टेशन हाउस ऑफिसर है।

  2. इंस्पेक्टर और एसएचओ में क्या अंतर है?

    एक इंस्पेक्टर पुलिस बल में एक रैंक है। पुलिस निरीक्षक की वर्दी की कंधे की पट्टी तीन सितारों वाली होती है. जबकि SHO को एक पुलिस स्टेशन का प्रभारी अधिकारी कहा जाता है, जो पुलिस स्टेशन के कार्यों की देखरेख अपने अनुकूल करता है |

  3. एसएचओ (SHO) अधिकारी का वेतन कितना होता है

    एसएचओ (SHO) अधिकारी का वेतन प्रतिमाह ₹27000 से लेकर ₹104400 के बिच में होता है? इसके बारे में आप ऊपर विस्तार से पढ़ सकते है.

  4. एसएचओ (SHO) का मुख्य कार्य क्या होता है?

    एसएचओ (SHO) का मुख्य कार्य निम्नलिखित है –
    1. अपने अधिकार क्षेत्र में अपराध की जांच करना और उसे रोकना
    2. अपने पुलिस स्टेशन का प्रतिनिधित्व करना
    3. SHO के अधीन सब-इंस्पेक्टर, हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल कार्य करता है, इसलिए उन्हें कार्य सौपना और उनके काम की निगरानी करना
    4. अपने पुलिस स्टेशन की तरफ से अदालत में उपस्थित होना
    5. अपने अधिकार क्षेत्र में पेट्रोलिंग की व्यवस्था करना।

  5. एसएचओ की न्यूनतम योग्यता क्या है?

    SHO कोई डायरेक्ट पोस्ट नहीं, बल्कि यह एक सब-इंस्पेक्टर का प्रमोशनल पोस्ट है. इसलिए पुलिस सब-इंस्पेक्टर बनने के लिए न्यूनतम योग्यता मानदंड किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज / संस्थान से 50% अंकों के साथ किसी भी विषय में स्नातक योग्यता होना चाहिए)।

  6. SHO Exam Syllabus क्या है?

    चुकी यह एक सब-इंस्पेक्टर का प्रमोशनल पोस्ट है, इसलिए SHO बनने के लिए उम्मीदवार को पहले सब-इंस्पेक्टर के रूप में नियुक्त किया जाता है, और फिर कुछ वर्षों के काम के बाद आपको एसएचओ या इंस्पेक्टर के रूप में SHO का पोस्ट दिया जाता है.
    SHO Exam का कोई Syllabus नहीं होता है, इसके लिए आपको SSC CPO का Syllabus के अनुरूप ही तैयारी करनी होती है.

आपने SHO full form in police के इस लेख में क्या सिखा?

SHO full form in police department” के इस लेख को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद, हमें उम्मीद है, की आपको यह हिंदी लेख जरूर पसंद आया होगा| यदि आपने “ Sho Syllabus and Qualification ” इस हिंदी-पोस्ट को अच्छे से पढ़ा होगा तो इसमे दी गई जानकारी आपके लिए ज्ञानवर्धक साबित होगी।

यदि आपको unhindi की यह post पसंद आया तो,आप इसे अपने social media पर अपने दोस्तों में share करे, और हमारा उत्साह बढ़ाये| यदि आपको इस post से सम्बन्धित कोई सवाल सुझाव या कोई त्रुटी हो तो नीचे comment करें या हमें contact करे, और hindi meaning, full form in hindi, internet knowledge, how-to in hindi, से सम्बंधित जानकारी पढ़ने के लिए हमसे जुड़े रहें| (जय हिंदी जय भारत)

Comments (4)

  1. Sunita parate
  2. Tripti

Leave a Reply