CID कैसे बने | CID Full Form in Hindi

CID के बारे में कौन नहीं जानता, लेकिन इससे जुड़े ऐसे कई Topic है, जिसके बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे, जैसे- CID Full form | what is CID in hindi | CID के कार्य | CID की स्थापना कब और किसने की | इसका मुख्य कौन होता है | CID और CBI में अंतर | CID का मुख्यालय कहाँ स्थित है?

इन सभी सवालो की विस्तृत जानकारी चाहते है, तो कृपया इस आर्टिकल को पूरा पढ़े. यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही ज्ञानवर्धक साबित होने वाला है,  अगर आप ख़ुफ़िया विभाग में रूचि रखते है तो  ISI क्या है और यह क्या काम करता है  के पोस्ट को भी ज़रूर पढ़े|


CID क्या होता है | CID Full Form in Hindi?

CID का फुल फॉर्म Crime Investigation Department  होता है, हिंदी भाषा में CID का पूरा नाम अपराध जांच विभाग है| यह भारत की एक  क्राइम जाँच एजेंसी है, जो राज्य के अन्दर ख़ुफ़िया तरीके से हत्या, अपहरण, चोरी जैसे जटिल मामले पर काम कराती है और अपराध का पता लगाती है. CID के Official ऑफिसर को detective या CID officer के नाम से जाना जाता है.


  • C — Crime 
  • I  — Investigation
  • D — Department

यह किसी भी police Department के सबसे unit में से एक होता है, लेकिन CID का भी अपनी official Uniform नहीं होती है, ये किसी भी Uniform में अपना काम कर सकते है. CID, पुलिस महानिदेशक (ADGP)  के Under कार्य करती है. किसी भी अपराध की जाँच करने के लिए भारत सरकार और DGP, Crime Investigation Department को कार्य सौपती है. और सी.आई.डी अपने ऑफिसर की मदद से उप अपराध की निष्पक्ष जाँच करती है.

CID कैसे बने | CID और CBI में अन्तर | CID Full Form in Hindi
CID Full Form in Hindi

आप What Is CID in Hindi पढ़कर समझ गयें होंगे की CID का फुल फॉर्म क्या है. इस पोस्ट में आगे और भी ज्ञानवर्धक जानकारी दी गई है|, जो आपके लिए उपयोगी साबित हो सकती है|



CID की स्थापना कब और किसने किया

CID की स्थापना 1902 में किया गया, इसकी स्थापना ब्रिटिश सरकार के द्वारा किया गया था, CID का मुख्यालय पुणे में स्थित है
राय बहादुर पंडित शंभू नाथ को “Father of Indian CID” यानी ” सीआईडी का पिता ” के नाम से जाना जाता है.

ये 1929 में किंग्स पुलिस मेडलिस्ट  के साथ ब्रिटिश साम्राज्य के सदस्य के रूप में भी जाने जाते थे. 1920 के समय में CID को दो ब्रांच में बांटा दिया गया था जिसमे पहल  स्पेशल ब्रांच और दूसरा  क्राइम ब्रांच के नाम से अलग हुआ.

CID के कितने Branches है  | CID का  क्या कार्य है

देश और राज्य में हर दिन कई क्राइम जैसे चोरी, लूटपाट, हत्या, बैंक धोका-धडी होती रहती है इन सभी की जाँच एक ब्रांच से संभव  नहीं है इसलिए सी.आई.डी को अलग अलग शाखाओ में बाँट दिया गया और सभी को अलग अलग प्रकार के अपराधो की जाँच सौप दी गई है. जैसे

  • Anti Human Trafficking

किसी भी तस्करी,  देह व्यापार, घरेलू काम, गुलामी या बंधक व्यक्ति से जुड़े अपराधो की जाँच करने के लिए  Anti Human Trafficking को कार्य सौपा जाता है

  • Anti Narcotics Cell

किसी भी तस्करी,  देह व्यापार, घरेलू काम, गुलामी या बंधक व्यक्ति से जुड़े अपराधो की जाँच करने के लिए  Anti Human Trafficking को कार्य सौपा जाता है

  • Anti Terrorism Wing

Anti Terrorism Wing उन व्यक्तियों के खिलाफ जाँच करती है, मादक पदार्थ का निर्माण, परिवहन, रख रखाब और बिक्री करते हैं।

  • Bank Frauds

इतिहास में हमारे देश में कई Bank Frauds के मामले हो चुके है, इसलिए Bank Frauds से सम्बंधित किसी भी प्रकार के जुड़े अपराधो की जाँच करने के लिए  Bank Frauds CID को कार्य सौपा जाता है

  • Missing Person Cell

गुमशुदा व्यक्तियों की छान बिन से जुड़े मामले से निपटने के लिए Missing Person Cell को कार्य सौपा जाता है

  • Human Rights Department
  • CB-CID
  • Dog Squad
  • Finger Print Bureau

CID में कितने Officers’ Ranks होते है?

इस department में मुख्यतः पांच Officers’ Ranks होते है, इन Ranks के सीआईडी अधिकारी आमतौर पर अपने Rank के पहले “जासूस” यानी “detective” शब्द का प्रयोग करते हैं।

  • Sub- Inspectors
  • Inspectors
  • Superintendents
  • Additional Director General of Police
  • Inspector General of Police (IGP)


CID Officer कैसे बने | How to be CID Officer in Hindi

CID Officer बनना कोई आसान काम नहीं है, इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ती है. CID Officer बनने के लिए, कुछ Eligibility criteria को follow करना होता है, यदि आप इसकी मापदंड के अनुसार इसकी सभी शर्तो पर उतीर्ण होते है तो आप आसानी से CID Officer बन सकते है. आइये जानते है Eligibility criteria to become a CID officer

CID Officer बनने के लिए Age Limit 

  • General Category के Candidate की आयु सीमा 20 से 27 साल तक होती है
  • OBC के candidate की आयु सीमा 20 से 30 साल तक होती है
  • ST/SC के candidate की आयु सीमा 20 से 35 साल तक होती है

Education Qualification for CID OFFICER

  • जो भी CID Officer बनना चाहता है वह, भारत का नागरिक होना चाहिए.
  • CID Officer बनने के लिए  महिला और पुरुष दोनों आवेदन कर सकते है
  • सीआईडी के सब इंस्पेक्टर या एक अधिकारी के पद पर भर्ती होने के लिए मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक उतीर्ण होना आवश्यक है
  • सीआईडी में एक कांस्टेबल के पद पर भर्ती होने के लिए न्यूनतम योग्यता 12वीं या उच्चतर माध्यमिक प्रमाणपत्र होना अनिवार्य है.

CID Officer Exam  के लिए कितनी बार प्रयास कर सकते है

  • जनरल केटेगरी के उमीद्वार इसमे पास होने के लिए 4 बार प्रयास कर सकते है,
  • OBC के उमीद्वार इसमे पास होने के लिए 7 बार प्रयास कर सकते है,
  • ST/SC के उमीद्वार इसमे पास होने के लिए प्रयास की कोई सीमा नहीं है

Selection Process of Cid in Hindi 

सीआईडी अधिकारी के selection Process  के लिए आपको Written Exam, Physical Test और Interview के चयन प्रक्रिया से गुजरना होता है.

इसकी Written Exam संघ लोक सेवा आयोग और SSC द्वारा आयोजित कराई जाती है, भारतीय सिविल सेवा परीक्षा को Pass करना होता है

परीक्षा 1

इसकी दो परीक्षा होता है जिसमे पहली परीक्षा में 200 marks का पेपर होता है जिसमे आपको दो घंटे का समय मिलता है, इसमे निम्नलिखित विषयों से प्रशन पूछे जाते है

  •  सामान्य इंटेलिजेंस + रीज़निंग
  • सामान्य जागरूकता
  • संख्यात्मक योग्यताएं
  • अंग्रेजी समझ

इस परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग भी होता है, जिसमे एक गलत प्रश्न के उत्तर के लिए आपका 0.25 अंक काट लिया जाता है

परीक्षा 2

और दूसरा पेपर 400 marks का होता है, जिसके लिए आपको 4 घंटे का समय दिया जाता है. इसमे निम्नलिखित विषयों से प्रशन पूछे जाते है

अंकगणितीय क्षमता (100 प्रश्न, 2 घंटे)
अंग्रेजी भाषा और समझ (200 प्रश्न, 2 घंटे)

इसमे भी नेगेटिव मार्किंग होता है, जिसमे एक गलत प्रश्न के उत्तर के लिए 0.50 अंक काट लिया जाता है.



Physical Test

Physical Test के अनुसार पुरुषों की लम्बाई  165 सेमी और छाती 75 सेंटीमीटर होनी चाहिए, महिलाओं के लिए शारीरिक लम्बाई  150 सेमी होनी आवश्यक है,  पहाड़ी व्यक्ति और आदिवासी समुदाय के लिए न्यूनतम लम्बाई 5 सेंटीमीटर होनी चाहिए

Eye Test 

  • दूर दृष्टि पहले में  6/6 और दूसरे में  6/9 होनी चाहिए
  • निकट दृष्टि पहले में 0.6 और दूसरे में 0.8 होनी चाहिए

Interview

इन परीक्षा और Physical Test में पास होने के बाद  उम्मीदवार को साक्षात्कार (Interview) के लिये बुलाया जाता है , Interview में 100 अंको का प्रश्न होता हैं .

Other Skills

  • इसके साथ CID Candidate के पास excellent memory, जल्दी और सबसे हित में निर्णय लेने वाला, अकेले काम करने की क्षमता, टीम के साथ समन्वय बनाकर काम करने की क्षमता होती चाहिए
  • इसके अलावे आपके पास तेज़ दिमाग, मजबूत शरीर और किसी भी काम को सुलझाने की काबिलियत होनी चाहिए
  • ये सभी मापदंड के बाद आप CID अधिकारी बनने के लिए योग्य है.

Cid Officer की Sallary कितनी होती है

सीआईडी ऑफिसर की सैलरी लगभग ₹90,000/- से लेकर ₹5,00,000/- तक हो सकती है। लेकिन रैंक और अनुभव के अनुसार सैलरी अलग-अलग होती है, इसके अलावे, ग्रेड वेतन, महंगाई भत्ता, छुट्टी यात्रा भत्ता, चिकित्सा और आवास इत्यादि भी वेतन के अतिरिक्त दिया जाता है.

CID और CBI में क्या अंतर है | Difference Between CID and CBI in Hindi

CID और CBI में कुछ समानताये है जिसे आसानी से समझा जा सकता है, CID और CBI दोनों ही खुफिया जांच एजेंसियां हैं, जिनका काम आपराधिक अपराधों का पता लगाना और उनकी जांच करना है और दोनों पुलिस प्रशासन का ही हिस्सा हैं, इसके अलावे साथ ही दोनों विभाग के अधिकारियों को विशेष प्रशिक्षण दिया जाता है। लेकिन, अब हम  CID और CBI में अंतर (CID Vs CBI) को जानते है

CID Vs CBICIDCBI
फुल फॉर्मCID का फुल फॉर्म Crime Investigation Department  होता हैCBI का फुल फॉर्म Central Bureau of Investigation होता है
कार्य क्षेत्रCID का कार्य क्षेत्र एक राज्य तक ही सिमित होता है यानी CID केवल राज्य के अन्दर हुए अपराधिक मामलों की जाँच करती है CBI भारत के Central Government की एक जाँच एजेंसी है जो नेशनल और इंटरनेशनल स्तर पर हुए अपराधिक मामलों की जाँच करती है
आदेश का पालन CID यह state Government के आर्डर पर कार्य करती है, कभी कभी राज्य के High court के द्वारा भी इसे जाँच का आदेश दिया जाता है.CBI को जाँच का आर्डर देने का अधिकार central government, High court और supreme court के पास होता है
स्थापन CID की स्थापना 1902 में ब्रिटिश सरकार के द्वारा किया गया थाCBI की स्थापना 1941 में Delhi Special Police (SPE) के द्वारा किया गया था, और 1963 में इसे केन्द्रीय जाँच ब्यूरो का नाम दिया गया
मुख्यालयCID का Headquarter पुणे में स्थित है CBI का Headquarter नई दिल्ली में स्थित है
संचालन का क्षेत्रयह सिर्फ अपने राज्य भर में ही सिमित होता है भारत सरकार राज्य सरकार की सहमति से राज्य के मामलों की जाँच करने का आदेश CBI को दे सकती है, हालाँकि High court और supreme court के आर्डर पर राज्य सरकार के सहमति के बिना ही किसी भी राज्य में अपराधिक मामलों की जाँच करने का आदेश सीबीआई को दे सकता है
कार्यक्षेत्र का विस्तारCID का कार्य क्षेत्र छोटा होता है यह केवल राज्य सरकार के अनुमति से राज्य में ही Investigations करती है CBI का कार्य क्षेत्र बड़ा होता है, National और International level पर भी अपराधिक मामलों की जाँच करता है
कार्यCID का कार्य:-
राज्य के भीतर आपराधिक मामलों की जाँच और
अपराध जैसे - दंगा मामले, हत्या के मामले आदि।
CBI का कार्य:-
देश भर में आर्थिक और भ्रष्टाचार के मामलो की जाँच
इसमे अंतर्राज्यीय समस्याएं भी शामिल होती हैं।
विभिन्न शाखायेइसके कई Branches है जैसे

•CB-CID
•Dog Squad
•Bank Frauds
•Anti Narcotics Cell
•Missing Person Cell
•Anti Terrorism Wing
•Finger Print Bureau
•Anti Human Trafficking
•Human Rights Department
इसके कई Branches है जैसे

•Anti Corruption Division
•Economic Offenses Division
•Policy & Coordination Division
•Special Crimes Division
•Directorate of Prosecution
•Central Forensic Science Laboratory
•Administration Division

FAQs on What is Cid in Hindi

इस पुरे Article को पढ़ने के बाद भी यदि आपके मन कोई सवाल है तो इस cid ka full form FAQs & QNA की मदद से आपके सारे Doubts Clear हो जायेगे –

Q. CID का मुख्य कौन होता है?

Ans:- एडिशनल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस CID का Head होता है 

Q.सीआईडी का नंबर कितना?

Ans:- CID का टॉल फ्री नंबर-18003456270 है, इस नंबर पर आप किसी भी अपराध की वैध जानकारी दर्ज करा सकते है, लेकिन इस नंबर का दुरूपयोग ना करे

Q.कौन है बड़ी सीआईडी या सीबीआई? 

Ans:- CID भारतीय राज्य पुलिस का एक विभाग है, जो राज्य के भीतर किए गए अपराधों की जांच करता है। सीबीआई केंद्र सरकार की एक जांच एजेंसी है, जो राष्ट्रीय या अंतरराष्ट्रीय हित से संबंधित अपराधों की जांच करती है। अत: हम यह कर सकते है की  CID और CBI में CBI बड़ा होता है.

Q. CID में सबसे उच्च पद कौन सा है?

Ans:- CID में सबसे उच्च पद Detective Chief Superintendent (जासूस मुख्य अधीक्षक) का होता है CID में कुछ रैंक होते है जैसे 
Detective Constable (DC)
Detective Sergeant (DS)
Detective Inspector (DI)
Detective Chief Inspector (DCI )
Detective Superintendent (DSU)
Detective Chief Superintendent (DCS)



आपने Cid Ka Full Form के इस लेख में क्या सिखा?

इस लेख को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद, हमें उम्मीद है, की आपको यह हिंदी लेख जरूर पसंद आया होगा| यदि आपने Cid Full Form in Hindi और CID और CBI में मुख्य अंतर के इस हिंदी-पोस्ट को अच्छे से पढ़ा होगा तो इसमे दी गई जानकारी आपके लिए ज्ञानवर्धक साबित होगी।

यदि आपको Unhindi की यह Post पसंद आया तो,आप इसे अपने Social Media पर अपने दोस्तों में Share करे, और हमारा उत्साह बढ़ाये| यदि आपको इस Post से सम्बन्धित कोई सवाल सुझाव या कोई त्रुटी हो तो नीचे Comment करें या हमें Contact करे-  (जय हिंदी जय भारत)

One Response

Leave a Reply