जल चक्र क्या है | what is water cycle in hindi

जल ही जीवन है जल के बिना जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती लेकिन जल चक्र क्या है ( What Is Water Cycle in Hindi )   से जुड़ा यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही ज्ञानवर्धक साबित होने वाला है,

इस आर्टिकल में : दिखाएँ

अक्सर What Is Water Cycle | Water Cycle Diagram chart | Water Cycle Drawing for Kid | Importance of Water Cycle | What Is Water Cycle Process Topic  से जुडी सवाल हम Internet पर Search करते है, अगर आप इन सभी सवालो की विस्तृत जानकारी चाहते है, तो कृपया इस आर्टिकल को पूरा पढ़े.

आप कंप्यूटर में रूचि रखते है तो  PH मान क्या होता है  | Advantages and Uses | Invention | Components | Features  के पोस्ट को भी ज़रूर पढ़े|


जल चक्र क्या होता है | What Is Water Cycle  in Hindi

सम्पूर्ण पृथ्वी पर, पांच महासागर है,  पेसिफिक ओसियन, अटलांटिक ओसियन, इंडियन ओसियन, अंटार्कटिक ओसियन और आर्कटिक ओसियन और ये सभी महासागर पृथ्वी के करीब 71 प्रतिशत भाग को घेरे हुए है. यानी सम्पूर्ण पृथ्वी 71 % जल से घिरा हुआ है, इसमे से 97.5% जल महासागरो में है, जो खारा है. 2.5 %  जल ही मीठा है जो Drinking Water के लायक है.

लेकिन जल चक्र के कारण ही जल का पुनः चक्रण ( Water Recycling ) होता है, जिसके कारण खारा जल मीठे जल में बदलता है, लेकिन यह जल चक्र क्या होता है ( Water Cycle Explanation )

जल का पुनः चक्रण की प्रक्रिया है इसी Water Cycle Process के द्वारा जल वाष्प वर्षा और बर्फ के रूप में पानी पृथ्वी के महासागरों, वायुमंडल और भूमि के बीच घूमता है. इसे Hydrologic Cycle भी कहते है 

यदि हम Water Cycle Process को आसान भाषा में समझे तो, नदियों और महासागरो से जल सूर्य की गरमी से वाष्पीकरण और वाष्पोत्सर्जन द्वारा वायुमंडल में जाता है और वर्षा के रूप में वापस धरती पर आ जाता है.

पृथ्वी पर जल अलग अलग जगहों पर जल (H2O)  हिम (ठोस), द्रव (पानी), वाष्प (गैस), अतिशीतित जल (सुपरकुल्ड वाटर) अवस्था में मौजूद है जैसे

  • धरातल पर तरल और बर्फ के रूप में
  • वायुमण्डल में वाष्प और बदल के रूप में
  • समुद्र में खारे जल के रूप में
  • भू-गर्भ में मीठे जल के रूप में

आप Explain Water Cycle in Hindi पढ़कर समझ गयें होंगे की Natural Hydrologic Cycle कैसे काम करती है इस पोस्ट में आगे और भी ज्ञानवर्धक जानकारी दी गई है|, जो आपके लिए उपयोगी साबित हो सकती है|



Water Cycle Process क्या है

Water Cycle Diagram की मदद से हम और भी अच्छे से समझ सकते है की Water Cycle Process क्या होता है और यह कैसे काम करता है.

यह वायुमंडल में होने वाला एक प्रकृति घटना है, जिसकी मदद से हमें वर्षा के रूप में स्वच्छ जल मिलाता है. इसमें जिसमें कई अलग-अलग Water Cycle Process होती है, इसे एक Water Cycle Diagram से समझा जा सकता है जैसे

पानी वाष्प में वाष्पित होना  > बादलों के रूप में संघनन > बारिश और बर्फ के रूप में पृथ्वी पर वापस और फिर से महासागर में मिल जाना

जल चक्र के कितने चरण होते हैं?

मुख्यतः Water Cycle का process तीन steps में पूरा होता है. जिसमे पहला step वाष्पीकरण और अंतिम step में वर्षण होता है

  • जल वाष्पीकरण (evaporation)

सूर्य की गर्मी के कारण महासागर या समुद्र से जल गर्म होकर जलवाष्प में परिवर्तित हो जाता है, चुकी जलवाष्प हल्का होता है, इसलिए वह ऊपर उठता है, और वायुमंडल में पहुच जाता है,

  • जलवाष्प संघनन (condensation)

जब जलवाष्प वायुमंडल में पहुचता है, तब यह संघनित  होकर बादल के रूप में बदला जाता है.

  • वर्षण (precipitation)

यही संघनित बदल वर्षण यानी हिमपात और वर्षा के रूप में जल को पुनः धरती पर गिरा देता है, फिर से हिमपात और वर्षा का जल नदी, झील, नालों में जाकर मिल जाता है.

  • भूमिगत परिसंचरण ( Underground water harvesting )

इसके साथ यही वारिश का पानी ज्‍यादा गहराई तक पहुंचता है और भूजल के स्तर को फिर से भर देता है, इस भूजल को पेड़ – पौधे ग्रहण करते हैं, तथा अपनी पत्तियों से वाष्‍पन उत्‍सर्जन  या भाप में परिवर्तित करके अपना भोजन बनाते है.

इस निरंतर रूप से चलने वाले Hydrologic Cycle यानी जल चक्र जीवों, पेड़ पौधे, और मनुष्य  के लिए जल प्रदान करता है. अब आप water cycle process hindi को समझ चुके है, इस सन्दर्भ में हम कह सकते है की जल चक्र का चरण का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा जल वाष्पीकरण ही है, क्योकि इसके बिना ना तो जल वाष्प बनेगा और न ही  बादल और ना ही वर्षा होगी.



Water Cycle और  Hydrologic Cycle Diagram को समझे

जल के सन्दर्भ में Water Cycle Process की प्रक्रिया बहुत ही सरल है जिसे कोई भी आसानी से समझ सकता है, कई Students के लिए यह मजेदार भी है लेकिन कभी कभी छोटे बच्चो को यह प्रक्रिया समझ में नहीं आती तो  उन्हें इस Water Cycle और  Hydrologic Cycle Diagram की मदद से समझाया जा सकता है

Diagram of Water Cycle for Kids

hydrologic cycle Diagram and water cycle diagram hindi
Hydrologic Cycle Diagram | Water Cycle Diagram Hindi


जल चक्र का क्या महत्व है | Importance of Water Cycle in Hindi

पानी के बिना जीवन संभव नहीं है, पृथ्वी पर कई स्थान है जहाँ पूरी तरह से वर्षा के जल पर आश्रित सहना पड़ता है, और वर्षा के लिए जल चक्र का महत्व बहुत ही ज्यादा है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की जल चक्र  इतना आवश्यक क्यों है Importance of Water Cycle  को अच्छे से समझते है.

  • Recycling of Water 

जल एक Non-Renewable Resources है, और Water Cycle की प्रक्रिया के बिना जल को दोबारा इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है, जल चक्र के कारण ही जल का पुनर्नवीनीकरण होता है, यानी दूषित और खारा जल अपने आप को शुद्ध करने के लिए प्राकृतिक जल चक्र का सहारा लेती है.

  • Underground Water Harvesting

भूगर्भ जल संचय का मलतब है धरती के अन्दर जल का संचय होना, इसी Underground Water Harvesting के कारण पेड़ पौधे जल का अवशोषण करते है, साथ ही भूगर्भ जल मनुष्य के लिए भी मीठे जल का श्रोत है, भूगर्भ जल का स्तर जल चक्र के महत्व को बताता है.

  • Source of Fresh-Water

जल चक्र मीठे जल का प्रमुख श्रोत है इसके लिए मनुष्य को कुछ भी करने की कोई अवयाश्कता नहीं है, यह एक Natural Water Purifying Process है जिसमे वायुमंडल अपनी भूमिका दिखता है.

  • Evaporation and Transpiration

जल चक्र की प्रक्रिया में वाष्पीकरण और वाष्पोत्सर्जन शामिल है, खुले तालाब और महासागर के जल की सतह पर  वाष्पीकरण और पेड़ – पौधे की पत्तियों के द्वारा वाष्पोत्सर्जन होता है, वाष्पोत्सर्जन के कारन ही पेड़ – पौधे अपना भोजन बना पाते है, और इसी क्रम में वे कार्बन -डाई- आक्साइड को आक्सीजन में बदलते है, मतलब मनुष्य के आक्सीजन के लिए भी जल चक्र जरूरी है.

  • The flow of Water in Air

Hydrologic Cycle की ही मदद से वायु में जल का प्रवाह होता है, और यही वायु में नमी का कारण भी है

  • Condensation makes clouds

धरती पर वर्षा के लिए बादल का बनना जरूरी है, बादल के कारण ही बारिश संभव है, और बारिश भूमिगत जल का एक मात्र श्रोत है, Hydrologic Cycle वाष्प को संघननित करके बादल बनाता है, और वर्षा होती है.

जल चक्र न हो तो हमारे जीवन पर क्या प्रभाव पड़ेगा?

पृथ्वी पर जितने भी जिव जंतु है उनमे से शायद ही कोई ऐसा हो जिसे जल की जरूरत ना हो, आज के समय जल प्रदुषण एक वैश्विक मुद्दा बना हुआ है, भारत में बहाने वाली कई नदिया या तो प्रदूषित हो चुकी है या विलुप्त के कगार पर है,

Water Pollution के इस पशु-पक्षी एवं मछली भी प्रभावित हुई है, ऐसे में जल चक्र एक मात्र उपाय है लेकिन अब प्रश्न यह है की  ” यदि पृथ्वी पर जल चक्र न हो तो हमारे जीवन पर क्या प्रभाव पड़ेगा

यदि जल का यह चक्रण रुक गया तो मानव जाती के लिए पानी के सभी श्रोत ख़त्म हो जायेगे,  झीलों एवं नदियों का पानी पुनः चक्रित नहीं होगा, जिसके कारन झीलों एवं नदियों की सुन्दरता ख़त्म हो जाएगी, साथ ही पशु-पक्षी एवं मछलीया भी मरने लगेगी.

हमें अभी भी Water Cycle  ( Hydrologic Cycle ) को बनाए रखने के लिए Global Warming को कम करने में अपना योगदान देना चाहिए, अधिक से अधिक पेड़ लगाए, झीलों एवं नदियों को साफ़ रखे.



FAQs Related to Hydrologic Cycle in Hindi

इस पुरे Article को पढ़ने के बाद भी यदि आपके मन कोई सवाल है तो इस Water Cycle meaning in Hindi FAQs & QnA की मदद से आपके सारे doubts clear हो जायेगे –

जल चक्र क्या है

जल चक्र एक प्राकृतिक प्रक्रिया है, जिसमे पृथ्वी के स्थल मंडल, जल मंडल तथा वायुमंडल के बीच जल के चक्रीय प्रवाह होता है 

पानी का सबसे शुद्ध रूप कौन सा है .

पानी का सबसे शुद्ध और साफ़ बारिश का पानी होता है, वर्षा जल प्राकृतिक रूप से पिने लायक होता है, वर्षा जल इतना शुद्ध होता है की इसे किसी भी Ro Water Purifiers का इस्तेमाल किये इसका सीधा उपयोग में लाया जा सकता है.  इसे हम आसुत जल भी कह सकते है, इंग्लिश में इसे Distilled Water के नाम से जाना जाता है, इसमे कोई कोई अशुधि नहीं होती है

पानी की शुद्धता की जाँच कैसे की जाती है 

पानी की शुद्धता की जाँच वाटर टीडीएस की मदद से की जाती है,  TDS of drinking water के सन्दर्भ में TDS का Full Form – Total dissolved solids होता है. इसी की मदद से पानी में विघटित कार्बनिक पदार्थ का पता लगाया जाता है. टीडीएस को एमजी प्रति इकाई मात्रा में लिखा जात है.

शुद्ध जल का TDS कितना होना चाहिए

Safe Drinking Water Foundation के अनुसार जल की कुछ Level of TDS बताई गई है
Level of TDS (milligrams per liter) 
Less than 300  —  Excellent
300 – 600 —  Good
600 – 900 —  Fair
900 – 1,200  —  Poor
Above 1,200 — Unacceptable

पानी का PH मान कितना होता है

शुद्ध  पानी का पीएच 7  होता है, लेकिन पानी की  सामान्य PH सीमा 6.5 से 8.5 के बिच होती है 

धरती पर कितना प्रतिशत खारा जल है

पृथ्वी की सतह पर 97 % पानी खारा यानी नमकीन है, और यह पिने लायक नहीं है, 

धरती पर कितना प्रतिशत मीठा जल है

धरती पर 3% से कम ताजा पानी उपलब्ध है, इसमे से 68% से अधिक बर्फ में जमे हुए है और 30% भूमिगत जल है, और मात्र 2% ही शुद्ध जल है जो हमें आसानी से प्राप्त है

जल के कितने नाम होते हैं?

जल ( Water ) के कई नाम है कुछ तो वैज्ञानिक नाम है और कुछ पानी का संस्कृत पर्यायवाची नाम है

> पानी का साधारण नाम –  जल, पानी, नीर
> IUPAC नाम –  ऑक्सीडेन
> वैकल्पिक नाम –  हाइड्रोजन हाइड्रॉक्साइड
> अणु सूत्र – H2O

पानी का पर्यायवाची शब्द क्या है

साधारण तौर पर पानी को कई नामो से जाना जाता है, जैसे जल, नीर, पानी, हाइड्रोजन हाइड्रॉक्साइड इत्यादि
लेकिन संस्कृत भाषा में पानी के कई पर्यायवाची शब्द है जैसे – आपः, वाः, वारि, सलिलं, जलं, कमलं, पयः, कीलालं, तोयं, अमृतं, जीवनं, भुवनं, वनम्, कबन्धम्, उदकं, पाथः, पुष्करं, सर्वतोमुखं, अम्मः, अर्णः, पानीयं, नीरं, क्षीरं, अम्बु, शम्बरं, मेघपुष्पं एवं घनरसः

जल चक्र का मुख्य घटक क्या है?

water Cycle का Main Component जल, सूर्य की गर्मी, और बदल है, ये सभी एक पारिस्थिकी का हिस्सा है. इसे समझाने के लिए आप Water Cycle Diagram chart देख सकते है

पानी में कितने तत्व होते है?

जल एक रासायनिक तरल पदार्थ है, जल का रासायनिक सूत्र H2O है,  इसमे  दो हाइड्रोजन परमाणु और एक ऑक्सीजन परमाणु से मिलकर बना होता है.

कौन सा विटामिन जल में घुलनशील होता है

Vitamins B और Vitamins C जल में घुलनशील होते है,  इसके अलावे  Vitamin D, Vitamin E, Vitamin K, Vitamin A ऐसे विटामिन है जो बसा में घुलनशील होते है,  जल में घुलनशील विटामिन का trick देखा जाए तो जल के लिए BC और बसा के लिए DEKA याद किया जा सकता है



Water Cycle और  Hydrologic Cycle Hindi में आपने क्या सिखा?

Natural Hydrologic Cycle एक प्राकृतिक घटना है, जिसमे कई प्रकार की प्रक्रिया होती है, और इन सभी प्रक्रिया से जुड़े कुछ टर्म्स और शब्द के बारे में जाना जिससे Water Cycle को  Explanation किया जा सके.

पिछले कुछ दशको में उछ मानवीय और कुछ प्राकृतिक घटनाओं ने पृथ्वी की इस प्राकृतिक जल चक्र को काफी प्रभावित किया है, जो असामान्य वर्षा का कारण बन चूका है, मतलब अधिक पेड़ – पौधे कटने के कारण  Global Warming बढ़ी है.

इस बढती Global Warming के कारण जल चक्र यानी Hydrologic Cycle प्रभावित हुआ है  जो असामान्य वर्षा का कारण बनी है,  इस असामान्य वर्षा के कारण कई किसान और कई बड़े जल श्रोत प्रभावित हुए है

what Is Water Cycle Meaning in Hindi ” के इस लेख को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद, हमें उम्मीद है, की आपको यह हिंदी लेख जरूर पसंद आया होगा| यदि आपने Meaning of Hydrologic Cycle in Hindi के इस हिंदी-पोस्ट को अच्छे से पढ़ा होगा तो इसमे दी गई जानकारी आपके लिए ज्ञानवर्धक साबित होगी।

यदि आपको Unhindi की यह Post पसंद आया तो,आप इसे अपने Social Media पर अपने दोस्तों में Share करे, और हमारा उत्साह बढ़ाये| यदि आपको इस Post से सम्बन्धित कोई सवाल सुझाव या कोई त्रुटी हो तो नीचे comment करें या हमें contact करे-  (जय हिंदी जय भारत)

Leave a Reply